Tue. Oct 20th, 2020

Rajasthan

मीरा प्रेम दिवानी, मीरा श्याम दिवानी गीतों की ये लाइनें सुनकर आपको लग रहा होगा की यहां कोई सत्संग चल रहा है और यह कोई मशहूर भजन गायक गीत गा रहा है..लेकिन ऐसा नहीं हैं, दरअसल यह राजस्थान में प्रतापगढ़ के जिला जेल का नजारा है और यह कोई भजन गायक नहीं बल्कि एक कैदी है
इस जिला जेल में ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान के वरिष्ठ राजयोग प्रशिक्षक बीके भगवान कैदियों को कर्मो की गुह्य गति से अवगत कराने आए.. वहीं यह कैदी उनकी बातों से प्रभावित होकर यह भजन गाने लगा
बीके भगवान ने इस दौरान कैदियों को बताया कि व्यक्ति व्यक्ति का दुश्मन नहीं है बल्कि उसके अंदर छिपे काम, क्रोध, लोभ, मोह और अंहकार जैसे विकार दुश्मन होते हैं
इस दौरान जेल उपाधीक्षक और कैदियों ने भी अपने अनुभव हमारे साथ साझा किए।
इसी क्रम में सावरिया स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में नैतिक मूल्य विषय पर कार्यशाला आयोजित की गयी….जिसमें बीके भगवान ने कहा कि पढ़ाई के साथ-साथ स्वयं को दिव्य गुणों से भी संवारना चाहिए।
इस दौरान प्राचार्य भैरूलाल परिहार, व्याखाता फतेहसिंग देवपुरा, बीके रामेश्वर और कई विद्यार्थी ने भी अपने अनुभव हमारे साथ बांटे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *