Mon. May 25th, 2020

1853 में स्वामी विवेकानंद के शिकागो विश्व धर्म संसद में दिए गए ऐतिहासिक भाषण की 125वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित किए गए विश्व हिंदु सम्मेलन में दुनिया भर से भारतीय सनातन धर्म पर चर्चा के लिए हज़ारों की संख्या में बुद्धिजीवी भाग लेने पहुंचे थे, वहीं टेक्सास से आई बीके रंजन समेत अन्य बीके बहनों ने इस दौरान प्रमुख वक्ताओं में सन्यासियों, धर्म गुरुओं और वीआईपी प्रतिनिधियों से मुलाकात की।

आर.एस.एस प्रमुख मोहन भागवत, ओख्लाहोमा यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर सुभाष काक, डेनवर विश्वविद्यालय के प्रोफेसर वेद पी नंदा, चिन्मय मिशन के हेड स्वामी स्वरुपानंद, हिंदू धर्म आचार्य सभा के सचिव स्वामी परमत्मानंद सरस्वती, सिख नामधारी सेक्शन के गुरु सतगुरु दलीप सिंह  समेत कई प्रख्यात हस्तियों ने विदेश में संस्थान द्वारा की जा रही सेवाओं की सराहना कीं तो वही बीके रंजन ने सभी को सेवाकेंद्र का अवलोकन करने का निमंत्रण दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *