Mon. Nov 23rd, 2020

Neemuch, Madhya Pradesh

तनाव हर व्यक्ति के जीवन में पहले से ही था लेकिन कोरोना महामारी के इस लंबे काल ने ऐसे कई कारण उत्पन्न किए जिससे सारे विश्व में बहुत तेजी से तनाव में वृद्धि हुई है और मनुष्य भय से ग्रसित हो गया है लेकिन यदि व्यक्ति अपनी नियमित दिनचर्या में राजयोग मेडिटेशन के साथ आत्मज्ञान का नियमित श्रवण-चिंतन करता रहे तो वह तनाव से उभर कर खुशहाल जिंदगी जी सकता है कुछ ऐसे ही विचार म.प्र. की नीमच सेवाकेंद्र प्रभारी बीके सविता और वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके श्रुति ने विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल के पदाधिकारियों की तनावमुक्ति कार्यशाला को संबोधित करते हुए व्यक्त किए इस दौरान एरिया निदेशक बीके सुरेंद्र, नगरपालिका अध्यक्ष राकेश जैन ने सभी का आभार प्रकट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *