Thu. Oct 22nd, 2020

इसी क्रम में धादिंग के ज़िला कारागृह में संस्कार परिवर्तन अपराधमुक्त जीवन विषय पर कार्यक्रम सम्पन्न हुआ, जिसमे जेलर पवन श्रेष्ठ, सुरक्षा अधिकारी टंक बहादु, धादिंग सेवाकेन्द्र प्रभारी बीके नंदा, बीके जमुना भी मुख्य रुप से मौजूद थी। इस दौरान बीके भगवान ने कैदियों को सम्बोधित करते हुए कर्मों के गुह्य गति का ज्ञान दिया।

ऐसे ही धादिंग सेवाकेन्द्र पर तनाव मुक्ति विषय पर कार्यक्रम का आयोजन हुआ, इस अवसर पर ज़िला प्रमुख अर्जुन श्रेष्ठ, ज़िला समन्वय समिति की अध्यक्षा सुषमा कार्की, सशस्त्र पुलिस अधिकारी रसीव कार्की, बीके भगवान, बीके नंदा ने दीप जलाकर कार्यक्रम का उद्घाटन किया, जहां बाद स्वगत नृत्य प्रस्तुत हुआ।

कार्यक्रम में बीके भगवान ने 21वीं सदी को तनाव की सदी बताते हुए आध्यात्मिकता द्वारा जीवन को तनाव मुक्त बनाने का आह्वान किया।

इस दौरान मौजूद अतिथियों ने तनाव को अनेक समस्याओं की जड़ बताते हुए इससे स्वयं का बचाव करने की बात कही, वहीं अन्य अतिथियों ने वर्तमान समय की आवश्यकता अनुसार जीवन में आध्यात्मिकता और राजयोग को शामिल करने की बात पर सहमति जताई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *