Fri. Oct 23rd, 2020

Janakpur

अगली खबर नेपाल के जनकपुर से हैं जहां पर वर्तमान समय की आवश्यकता को देखते हुए तनावमुक्त जीवन विषय पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर माउंट आबू से आयी वरिष्ठ राजयोगी बीके भगवान ने कर्मों की गुहय गति के बारे में बताते हुए कहा कि हमें किसी इंसान व भगवान से डरने के बजाए अपने गलत कर्मों से डरना चाहिए क्योंकि वास्तव में वही दुख अशांति का मूल कारण है।
इस कार्यक्रम का उद्घाटन जिला आयुक्त दिलीप चापागाई, पतंजलि योग गुरू मनोहर शाह, समाजसेवी श्याम लाल शाह, राजयोग शिक्षिका बीके श्रृजना, राजयोग शिक्षिका बीके कमला समेत कई विशिष्ट लोगों ने किया।
इस दौरान सीडीओ दिलिप चापागाई ने संस्थान के सदस्यों का आभार व्यक्त किए और राजयोग का जीवन में शामिल करने की अपील की। वहीं बीके श्रृजना ने भी आत्मिक दृष्टिकोण द्वारा विश्व बंधुत्व की भावना को बढ़ावा देने पर बल दिया।
इसके साथ ही सेवाकेंद्र पर तनावमुक्त जीवन विषय पर आयोजित कार्यक्रम में जनकपुर हाईकोर्ट के मुख्य न्यायधीश उदय प्रकाश चापागाई, गौ संरक्षक मंच के केंद्रीय अध्यक्ष जगदीश महासेठ, बीके भगवान और बीके श्रृजना समेत कई बहनें व संस्था से जुड़े लोग मौजूद रहे।
मुख्य न्यायधीश उदय प्रकाश ने कहा कि आध्यात्मिक उर्जा सत्संग से ही प्राप्त होती है और बड़ी बड़ी नकारात्मक घटनाओं से हमें बचाती है व जगदीश महासेठ ने जीवन का सदुपयोग करने की बात कही उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए बीके भगवान ने स्व परिवर्तन के लिए ईश्वरीय ज्ञान का होना जरूरी बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *