Fri. May 29th, 2020

Nagpur, Maharashtra

इसी तरह महाराष्ट्र नागपुर के कलमेश्वर स्थित श्री गजानन मंदिर में भी श्रीमत भगवत गीता पर आधारित ज्ञान यज्ञ का आयोजन हुआ, जिसका शुभारम्भ कार्यक्रम की मुख्य वक्ता मध्यप्रदेश से आई सिवनी सेवाकेन्द्र की प्रभारी बीके गीता समेत तहसीलदार हंसाताई मोहिने, पुलिस निरीक्षक एम.एन. मुलक, नगर परिषद के मुख्य अधिकारी एम.एन. हरीशचंद टाकलखेडे, भाजपा के ज़िलाध्यक्ष डॉ. राजीव पौद्दार, महाराष्ट्र सिलेंडर प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजर हरीप्रकाश चौरसिया, नागपुर सेवाकेन्द्र से वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके मनिषा ने दीप जलाकर किया।

मानव जीवन के अन्दर सुख शांति का आधार आध्यात्मिक ज्ञान है, इस ज्ञान के बिना चरित्र का निर्माण नहीं हो सकता है और ये आध्यात्मिक ज्ञान देने वाला स्वयं निराकार शिव परमात्मा है जो एक ज्योति के रुप में अखण्ड जागती ज्योत है जो इस धरा पर आकर हम सभी मनुष्यात्माओं के इसी सत्य ज्ञान के आधार से ज्योति जगा रहा है। विश्व की आत्माओं के ज्ञान की ज्योति जगाने के लिए इस कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को गीता के भगवान परमात्मा शिव का सत्य ज्ञान दिया गया।

7 दिवसीय इस गीता यज्ञ की मुख्य वक्ता बीके गीता ने उन तमाम बतों पर प्रकाश डाला जो वर्तमान समय की समस्याओं से जुड़ी है तो भगवत गीता में उन सभी समस्याओं का हल है ये इस शिविर के दौरान मौजूद लोगों को स्पष्ट किया गया। वहीं आए हुए अतिथि डॉ. राजीव पोद्दार तथा बीके मीनाक्षी ने भी अपने विचार रखें।

वहीं शिविर के आखिरी दिन समापन सत्र में बीके गीता ने कर्मों की गुह्य गति बताई। वहीं स्थानीय सेवाकेन्द्र प्रभारी बीके यशोदा ने सभी को अपनी शुभकामनाएं दी।

इस दौरान सभी को राजयोग मेडिटेशन का भी अभ्यास कराया गया, वहीं अन्त में प्रतिभागियों ने शिविर में हुए अनुभवों को साझा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *