Thu. Oct 29th, 2020

Degloor

इसी क्रम में इस अभियान के तहत महाराष्ट्र के देगलूर सेवाकेंद्र द्वारा कई स्कूल व कालेजों में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया जिसकी शुरूआत उप-जिलाधिकारी वी.एल. कोली ने शिवध्वज दिखाकर किया।
आज युवाओं में वो उर्जा है जिससे हर परिस्थिति को बदला जा सकता है, लेकिन वह कहीं भटक गया उसे सही दिशा दिखाने के लिए इस अभियान द्वारा युवाओं को व्यसन मुक्ति के प्रति जागरूक करने के लिए पूरे तालुका के सरकारी स्कूलों में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया ताकि आज का युवा व्यसनमुक्त और सशक्त बन कल के भारत का कायाकल्प कर सके देगलूर सेवाकेंद्र प्रभारी बीके लक्ष्मी और बीके विद्द्या का कहना है कि युवाओं को व्यसन से छुडाना इतना आसान कार्य नहीं है, लेकिन प्रत्येक व्यक्ति का यह प्रथम कर्तव्य है कि वह खुद को व्यसनों से दर रखें इस अभियान के प्रारम्भ में मेरा भारत व्यसन मुक्त भारत अभियान के निदेशक बीके डॉ. सचिन परब ने करीब 100 बीके सदस्यों का प्रशिक्षण कराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *