Mon. Oct 26th, 2020

Bhinmal, Rajasthan

दुनियाभर में लड़का और लड़की में भेदभाव की घटनाएं सामने आती रहती हैं। बालिकाओं को उनके अधिकारों से वंचित रखा जाता है। बहुत सारे ऐसे मामले सामने आते हैं, जिनमें बालिकाओं को उनके जन्म से लेकर उनके पालन-पोषण के दौरान उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य और मानवाधिकारों की हकमारी की जाती है। बालिकाओं को उनका अधिकार और सम्मान देने के साथ ही पूरी दुनिया को जागरुक करने के उद्देश्य से अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। इसी क्रम में राजस्थान में ब्रह्माकुमारीज़ के भीनमाल सेवाकेन्द्र एवं युवा प्रभाग द्वारा ‘माई वॉइस, आवर इक्वल फ्यूचर‘ विषय पर ऑनलाइन वेबिनार का आयोजन किया गया। इस वेबिनार के मुख्य वक्ता रही मुम्बई से मंजू लोधा, योगा ट्रेनर माया चौधरी, भीनमाल सेवाकेन्द्र की प्रभारी बीके गीता, रानीवाड़ा से बीके सुनीता, मध्यप्रदेश के मंडला से बीके ममता ने बालिकाओं के अधिकारों को लेकर अपने विचार व्यक्त किए। वहीं इस वेबिनार को मुम्बई से बीके हर्षा ने कॉर्डिनेट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *