Fri. Oct 30th, 2020

Aurangabad-Maharashtra

जो अपना ध्यान रखेगा उसको डायबिटीज कभी नहीं होगी। जो कुछ हम सोचते हैं बोलते हैं करते हैं वो हमारा कर्म है। जब हम डरते हैं तो हम आत्मा की शक्ति को यूज नहीं करते हैं। ये कहना है कि जीवन प्रबन्धन विशेषज्ञ बीके शिवानी का। वे महाराष्ट्र के औरंगाबाद सेवाकेन्द्र द्वारा आयोजित बैलेन्स सीट ऑफ लाईफ कार्यक्रम में भारी तादाद में उमड़े लोगों को सम्बोधित कर रही थी।

उन्होनें जीवन के विभिन्न पहलुओं पर बारिकी से चर्चा करते हुए कहा कि जीवन एक अमूल्य उपहार है इश्वर का इसलिए इसमें सहेज कर रखें।

इस अवसर पर महाराष्ट्र एवं आंधप्रदेश जोन की प्रभारी बीके संतोष ने कहा कि सर्व शक्तिमान के साथ बुद्धि का योग लगाने से हम अपने अंदर ऐसी षक्ति भरते हैं जिससे हमें अपने कर्मों को श्रेष्ठ बनाने में बड़ी मदद मिलती है।

कार्यक्रम में चार चांद तो तब लग गये जब संगीता भावसागर उनके म्यूजिकल ग्रुप ने आध्यात्मिक गीतों से माहौल को खुशनुमा बना दिया।

इससे पूर्व कार्यक्रम का औरंगाबाद एजीएम के डीन डा प्रवीण सूर्यवंशी, ट्स्टी अंकुशरावजी कदम, महाराष्ट्र तथा आंध्र प्रदेश की जोन प्रभारी बीके संतोष, जीवन प्रबन्धन विशेषज्ञ बीके शिवानी, औरंगाबाद की प्रभारी बीके शीला समेत कई लोगों द्वारा दीप जलाकर उदघाटन किया गया। इस कार्यक्रम में पूरा शहर उमड़ पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *