Thu. Oct 22nd, 2020

No Tobacco Day

तम्बाकू निषेध दिवस पर देश के कई स्थानों में जागरुकता फैलाने के लिए ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान ने अनेका अनेक कार्यक्रमों का आयोजन कर नशे से होने वाले नुकसान उससे निजात पाने के तरीके बताए गए। राजस्थान, यूपी, .., मध्यप्रदेश, गुजरात, तमिलनाडू तथा नेपाल में भी संस्थान के सदस्यों ने समाज के श्रेष्ठ बदलाव के लिए अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

राजस्थान के भिलवाड़ा में मेरा भीलवाड़ा, व्यसनमुक्त भीलवाड़ा अभियान चलाया गया। गायत्री नगर में 145 लोगों ने स्वेच्छा से तम्बाकू शराब छोड़ने की दवा ली तथा व्यसनों को छोड़ने की प्रतिज्ञा भी करी। नगर भर में जागृति फैलाने के लिए संस्थान के सदस्यों ने रैली निकाली, जिसमें डॉ. राधेश्याम श्रोत्रिय, गौतम शिक्षण संस्थान के निदेशक कमला व्यास, पार्षद घनश्याम तथा सेवाकेन्द्र प्रभारी बीके इंद्रा शामिल थी।

यूपी आगरा के ईदगाह सेवाकेन्द्र तथा आगरा कैंट रेलवे स्टेशन के संयुक्त तत्वाधान में स्टेशन के प्रवेश परिसर में व्यसनमुक्ति पर चित्र प्रदर्शनी लगाई गई। इस प्रदर्शनी का उद्घाटन डी.आर.एम रंजन यादव, एस.एमआर.सी.मीना, डी.सी.एम रश्मि बघेल, ईदगाह की प्रभारी बीके अश्विना ने किया। इसके बाद अतिथियों ने इस प्रदर्शनी को लोगों के लिए सकारात्मक परिवर्तन का सद्प्रयास बताया। लगभग 1100 लोगों ने प्रदर्शनी का लाभ लिया तथा प्रतिज्ञा पत्र भरकर व्यसन छोड़ने का संकल्प लिया।

.. में रायपुर के रेलवे स्टेशन पर भी नशामुक्ति आध्यात्मिक प्रदर्शनी देखने को मिली, जहाँ महापौर प्रमोद दुबे तथा ब्रह्माकुमारीज़ के संयुक्त प्रयास से हज़ारों लोगों ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया। अतिथियों ने कहा कि समाज से नशाखोरी की समस्या को खत्म करने के लिए लोगों को जागरुक करना ज़रुरी है। यह प्रदर्शनी यात्रियों के लिए प्रेरणादायक है।

मध्यप्रदेश ग्वालियर के जया आरोग्य अस्पताल में एक दिवसीय व्यसनमुक्ति प्रदर्शनी का शुभारम्भ जे. हॉस्पिटल के संयुक्त संचालक एवं अधीक्षक डॉ जे.एस सिकरवार तथा कई विशिष्ट अतिथियों ने किया। प्रदर्शनी में लगे चित्रों में यह दर्शाया गया कि एक दिन की सिगरेट तंबाकू का सेवन, कैंसर जैसी कई भयंकर बीमारियों को निमंत्रण देता है।

गुजरात में विश्व तंबाकु निषेध दिवस पर राजकोट के 17 सेवाकेन्द्र ने ह्युमन चैन तथा व्यसनमुक्ति पर रैली का आयोजन किया। इस मौके पर संस्थान के 31 सदस्यों ने 31 मार्ग पर 31 मिनिट के लिए ह्यमन चेन बनाकर लोगों को व्यसनमुक्ति के प्रति जागरुक किया। वहीं बीके अंजू ने सम्पूर्ण स्वास्थ्य के प्रति जागृति और नकारात्मक आदतों को तथा व्यसनों को छोड़ने का दृढ़ संकल्प कराया।

तमिलनाडु के इरोड में ब्रह्माकुमारीज़ द्वारा बस स्टैण्ड पर चित्र प्रदर्शनी के साथसाथ कलाकारों द्वारा व्यसनमुक्ति पर ड्रामा प्रस्तुत किया गया। प्रदर्शनी का उद्घाटन विधायक के.एस थेन्नारसु, पुलिस अधीक्षक डॉ. एस शिव कुमार, स्वास्थ्य सेवा के संयुक्त निदेशक डॉ. टी कन्नागचला कुमार तथा अन्य कई विशिष्ट अतिथियों ने किया। जिसके बाद सभी ने व्यसनों को छोड़ने का संकल्प लेते हुए उसकी आहुति दी।

नेपाल के वीरगंज सेवाकेन्द्र द्वारा धुम्रपान दुर्व्यसन सम्बन्धित चित्र प्रदर्शनी एवं आध्यात्मिक विचार गोष्ठी में प्रभारी बीके रविना ने कहा कि मानव आत्मा राजयोगी जीवन शैली को अपनाकर ही धुम्रपान तथा शराब आदि व्यसनों से स्वयं को बचा सकती है। इस अवसर पर फिज़िशियन डॉ. अजित कुमार शाह, माई स्थान विद्यापीठ माध्यमिक विद्यालय समेत अन्य कई विद्यालयों की शिक्षिकाएं मुख्य रुप से मौजूद थी।

इस कार्यक्रम का लाभ सैकड़ों ने बच्चों ने लिया साथ ही उपस्थित सभी लोगों ने व्यसनों से स्वयं को दूर रखने की प्रतिज्ञा भी ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *