Sat. Oct 31st, 2020

Hyderabad

विश्व की पहली और महान संस्कृति के रूप में भारतीय संस्कृति को माना जाता है। विविधता में एकता का कथन यहां पर प्रसिद्ध है क्योंकि भारत एक विविधतापूर्ण देश है जहां विभिन्न धर्मों के लोग अपनी संस्कृति और परंपरा के साथ मिलकर रहते हैं। अन्य देशों की संस्कृतियां तो समय की धारा के साथ-साथ नष्ट होती रहती हैं किंतु भारत की संस्कृति आदि काल से ही परंपरागत अस्तित्व के साथ अजर अमर बनी हुई हैं, तभी तो पूरा विश्व आज भी भारतीय कला और संस्कृति का कायल है इसी भारतीय कला व संस्कृति का अनूठा संगम हैदराबाद के शांतिसरोवर में आयोजित इंडियन कल्चरल फेस्टिवल में देखने को मिला। जिसमें लोगो का हौसला बढ़ाने के लिए पर्यटन और संस्कृति सचिव बी वेंकटेश, पूर्व केंद्रिय मंत्री के. सांबा शिव राव, तेलंगाना के फिल्म चैंबर अध्यक्ष आर.के. गौढ़, संस्थान के कार्यकारी सचिव बीके मृंत्युजय, शांतिसरोवर की निदेशिका बीके कुलदीप मुख्य रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *