Mon. Oct 26th, 2020

गुरूग्राम के ओम् शांति रिट्रीट सेंटर में नौनिहालों के लिए रूहानी चमन के नन्हें पुष्प नामक तीन दिवसीय बाल व्यक्तित्व विकास शिविर लगा इन दो दिनों में बच्चों के समग्र विकास के लिए राजयोग के रचनात्मक और बौद्धिक प्रतिस्पर्धाओं का आयोजन किया गया था जिसमें दिल्ली, गुरूग्राम और नोएडा के 300 से अधिक बच्चों ने शामिल हुए और शिविर का भरपूर लाभ लिया।

इस शिविर का शुभारंभ पुंज लायॅड के महाप्रबंधक एवं पूर्व मेजर जनरल डॉ. एम.एपी. सिंह, वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका विजया, बीके मधु ने दीप जलाकर किया।

उद्घाटन के पश्चात बच्चों को संबोधित करते हुए डॉ. एम.पी सिंह ने बताया कि सफल व्यक्ति वहीं है जिसके जीवन में संतुष्टा है, लेकिन जीवन में संतुष्टा तभी आती है जब व्यक्ति भौतिक के साथ आध्यात्मिक रूप से अपना विकास करता है।

वहीं संस्थान की वरिष्ठ बहनों ने बच्चों को एकाग्रता, आपस में मिलजुल कर रहना, नैतिक और आध्यात्मिक मूल्यों का जीवन में महत्व जैसे विषयों पर बच्चों को प्रेरणादायक उदाहरण द्वारा समझानी दी और श्रेष्ठ आचरण डालने के लिए प्रेरित किया।

तीन दिवसीय यह शिविर कई मायनों में बच्चों के लिए यादगार रहा बच्चों ने जहां खेलकूद का आनंद लिया तो राजयोग द्वारा अपने अंदर हुए परिवर्तनों से खुश हुअे आईए सुनते हैं बच्चों के अनुभव उन्हीं की जुबानी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *