Mon. Dec 9th, 2019

गुरुग्राम के ओम् शान्ति रिट्रीट सेन्टर में संस्था के प्रशासिक प्रभाग द्वारा प्रशासकों के जीवन में मूल्यनिष्ठता लाने तथा सकारात्मक बदलाव के लक्ष्य को लेकर बीके फैकल्टीज़ के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 5 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में पूरे भारत से 150 बीके प्रशिक्षकों ने हिस्सा लिया। ये प्रशिक्षण कार्यक्रम खास राजयोगाभ्यासियों को मानसिक और बौद्धिक स्तर पर तैयार करने के लिए आयोजित किया गया था.. ताकि वे अलग-अलग क्षेत्रों में कार्य कर रहे प्रशासकों को कार्यक्षेत्र में आने वाली बाधाओं को सहज जी पार कर सके। इसमे.. ओआरसी की निदेशिका बीके आशा ने एनहान्सिंग सेल्फ इस्टीम विषय पर चर्चा करते हुए प्रशिक्षकों को प्रशिक्षण के दौरान भयमुक्त बनने की प्रेरणा देते हुए अपने प्रशिक्षण को बेहतर बनाने की कला सिखाई। आगे संस्था के अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन ने भी अपने आशीर्वचनों से सभी को लाभान्वित किया।
दिवसीय इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में समय और कार्य प्रबंधन, नैतिक शासन, कार्यशाला का संचालन कैसे करें, स्व प्रबंधन कौशल समेत अन्य कई विषयों के अन्तर्गत.. सभी को प्रेरित किया गया। मुख्यालय से आई वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके उषा, दिल्ली से आई बीके सरोज, मुम्बई से आए बीके ई.वी. स्वामीनाथन, बीके ई.वी. गिरीश एवं अन्य मुख्य वक्ताओं द्वारा प्रतिभागियों का मार्गदर्शन किया गया।
इस कार्यक्रम के दौरान आए.. भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय में प्रेस सूचना ब्यूरो के प्रधान महानिदेशक आई.आई.एस- के.एस. धटवालिया तथा भारत सराकर के पूर्व सचिव सुधीर मित्तल ने अपने अनुभव साझा किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *