Sat. Oct 19th, 2019

Uttar Pradesh

स्कूलों के छात्र-छात्राओं में नैतिक शिक्षा की अलख जगाने वाले वरिष्ठ राजयोग प्रशिक्षक बीके भगवान ने यूपी में उरई के झांसी रोड स्थित ब्रजकुंवर देवी एल्डीच पब्लिक स्कूल में विद्यार्थियों को सम्बोधित किया। कार्यक्रम में स्कूल के प्रबंधक अजय इटोरिया, स्थानीय सेवाकेन्द्र प्रभारी बीके मीना, बीके ब्रजभान समेत अन्य सदस्य भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर बीके भगवान ने विद्यार्थी जीवन का महत्व तथा लक्ष्य स्पष्ट किया, वहीं अजय इटौरिया ने वर्तमान परिवेश में नैतिक शिक्षा की आवश्यकता पर ज़ोर दिया।

इस दौरान प्रधानाचार्य राजेन्द्र प्रसाद मिश्र से भी बीके भगवान ने मुलाकात कर ईश्वरीय ज्ञान की चर्चा की।

 

जमुनादेवी नरेशचन्द्र महाविद्यालय में भावी शिक्षकों के लिए आदर्श शिक्षक विषय पर कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें बीके भगवान ने कहा कि शिक्षक के अंदर जो संस्कार है उनका विद्यार्थी अनुकरण करते है। इस मौके पर प्रबंकधक राकेश अग्रवाल, बीके मीना समेत विद्यालय का अन्य स्टाफ मुख्य रुप से मौजूद था।

 

ऐसे ही उरई के करसान में डॉ. नरेन्द्र द्विवेदी शिक्षा महाविद्यालय में लक्ष्मी चरण हुब्ब लाल महाविद्यालय, कालका शिक्षा महाविद्यालय तथा स्थानीय महाविद्यालय के शिक्षकों के लिए भी आदर्श शिक्षक विषय पर कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

इस अवसर पर बीके भगवान ने कहा कि वर्तमान में बिगड़ती परिस्थिति को देखते हुए समाज को सुधारने की बहुत आवश्यकता है। शिक्षक वही है जो अपने जीवन की धारणाओं से दूसरों को शिक्षा देता है।

कार्यक्रम में प्रबंधक मंडल से प्रभाकर अवस्थी, डॉ. अर्चना अवस्थी, भास्कर अवस्थी, प्राचार्य डॉ. अमरीश वाजपेयी, छात्र-छात्राओं समेत कई शिक्षकों को राजयोग मेडिटेशन का अभ्यास कराया गया।

 

आगे एस. आर पब्लिक स्कूल में बच्चों के लिए जीवन में नैतिक शिक्षा के महत्व विषय पर कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें प्राचार्य रश्मि शुक्ला, प्रबंधक अशोक कुमार राठौर, बीके भगवान तथा बीके मीना ने दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। इस दौरान उपस्थित सभी बच्चों को राजयोग का अभ्यास कराकर एकाग्रता की शक्ति बढ़ाने का आह्वान किया गया।

वहीं अशोक कुमार राठौर ने ब्रह्माकुमारीज़ का धन्यवाद करते हुए बच्चों से अपने जीवन में दी गई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *