Sun. Oct 25th, 2020

Uttar Pradesh

जिस प्रकार साहित्य समाज का दर्पण होता है, उसी प्रकार लोकतंत्र का चैथा स्तंभ पत्रकारिता भी समाज का सजग प्रहरी होता है. वह जिस प्रकार दिन रात एक करके अपनी नींद का त्याग कर समाज की हर बुराई को आइना दिखाता है उसी प्रकार समाज के अन्दर बिना किसी लालसा के कार्य करते लोगो की अच्छाई को भी सामने लाता है. इसीको ध्यान में रखते हुए हिंदी पत्रकारिता दिवस के उपलक्ष्य में उत्तर प्रदेश के हाथरस स्थित आनंदपुरी कॉलोनी सेवाकेंद्र द्वारा नगर पालिका के टाउन हॉल में ‘जनपद पत्रकारिता सम्मलेन‘ का आयोजन किया गया जिसमे प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के तमाम पत्रकारों ने भागीदारी की.
‘पत्रकारिता – नई चुनौतिया, संघर्ष, तनाव एवं आध्यात्मिक समाधान‘ विषय के अंतर्गत, इस सम्मलेन में अपरजिल्हाधिकारी रेखा चैहान, नगर पालिका अध्यक्ष्य आशीष शर्मा, नगरपालिका अधिशाही अधिकारी स्वदेश आर्य, पत्रकार असोसिएशन उपजा के अध्यक्ष्य महेश चंदेले मुख्य रूप से उपस्थित थे. इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में आई ज्ञानामृत पत्रिका की सयुक्त संपादिका बीके उर्मिला ने दैनिक जीवन में तनाव मुक्ति के कुछ मंत्र दिए वही सभी मीडियाकर्मियों ने ब्रह्माकुमारिज संस्था को समाज के हित में की जा रही सेवाओं के लिए बधाई भी दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *