Tue. Oct 27th, 2020

Uttar Pradesh

वर्तमान समय चारों ओर चारों भय, निराशा एवं अशांति का माहौल है यदि ऐसे समय पर हम सभी मिलकर उस सर्वशक्तिमान सत्ता को याद करें व वातावरण में सुख, शांति, आनंद एवं प्रेम के वाइब्रेशन फैलायें तो निश्चित ही एक अच्छे वातावरण का निर्माण हो सकता है, परमात्मा शिव की याद के इसी महत्व को ध्यान में रखते हुये उत्तरप्रदेश के अनूपशहर में मेडीटेशन द्वारा प्रकृति एवं संबंधों का शुद्धिकरण विषय पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें माउंट आबू से आयीं नेचुरोपेथिस्ट बीके जमीला ने राजयोग का महत्व बताते हुये कहा कि इसके नियमित अभ्यास से हमारे संस्कार, आपसी संबंधों एवं प्रकृति के पांच तत्वों में भी सकारात्मक परिवर्तन आने लगता है।
कई शैक्षणिक संस्थान में हुये इस कार्यक्रम में सेवाकेंद्र प्रभारी बीके मीना, राजयोग शिक्षिका बीके कमलेश एवं बीके सत्यप्रकाश ने भी अपने विचार व्यक्त किये और क्षेत्र में की जा रहीं ईश्वरीय सेवाओं से भी अवगत कराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *