Sun. Oct 20th, 2019

Uttar Pradesh

खुशी का स्वास्थ्य से गहरा रिश्ता है क्योंकि बीमारी का 70 फीसदी कारण तनाव है अगर हम तनाव पर काबू पाना सीख लें तो हमारी तमाम बीमारियों का इलाज आसान हो जाएगा और तनाव पर नियंत्रण करने के लिए आध्यात्म की सबसे बड़ी भूमिका है इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखकर गाज़ियाबाद के वैशाली स्थित ऑरनेट होटल में तीन दिवसीय खुशी और सेहत के लिए आध्यात्मिक समाधान विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें उत्तर प्रदेश में बुलंदशहर की विधायक डॉ. अनिता राजपूत, साइकोलॉजी में अन्तर्राष्ट्रीय अवॉर्डी गोल्ड मेडलिस्ट डॉ. गिरीश पटेल, राजयोग शिक्षिका बीके गुंजन, बीके रंजना, बीके राजेश, ओआरसी की राजयोग शिक्षिका बीके ईशू ने कैंडल लाइटिंग कर किया।

इस कार्यशाला में बीके डॉ. गिरीश पटेल ने संबोधित करते हुए कहा कि खुशहाल बनना है तो छोटी-छोटी बातों में खुश रहना सीखें, और जीवन में जो भी करें खुशी से करें न कि खुशी के लिए वहीं विधायक डॉ. अनीता राजपूत ने तनाव और लालच से हमेशा बचने की बात कहते हुए इस खास कार्यक्रम के लिए सदस्यों का आभार माना।

इस दौरान जीएस मेडिकल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल की डायरेक्टर डॉ. रूपाली, नॉर्थन आरोमैटिक्स के डायरेकटर दिवाकर नागपाल समेत कई विशिष्ट लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *