Thu. Apr 25th, 2019

Rajasthan

युवा किसी भी देश के लिए नयी आशा की किरण होते हैं, युवा राष्ट्र के विकास में अहम योगदान निभा सकते हैं लेकिन तब जब उनमें नीहित उर्जा को सही दिशा दी जाये युवाओं की प्रतिभा को उभारने के लिए सरकार कई योजनाओं और अभियानो के माध्यमों से प्रयास भी कर रही है। इसी कढ़ी में ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान के युवा प्रभाग ने भी आबूरोड के मनमोहिनीवन में युवाओं के लिए ‘कल का शिल्पकार’ नामक विषय चार दीवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का अयोजन किया जिसमें देशभर से कई युवाओं ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया।

इस सम्मेलन का शुभारंभ संस्थान के महासचिव बीके निर्वेर, देश के पूर्व केंद्रिय मंत्री पवन बंसल, जयपुर से नेहरू युवा केंद्र के स्टेट डायरेक्टर श्याम सिंह राजपुरोहित, युवा प्रभाग की उपाध्यक्ष बीके चंद्रिका, राष्ट्रीय संयोजिका बीके क्रुति, मुख्यालय संयोजन बीके आत्मप्रकाश ने दीप जलाकर किया।

सम्मेलन में बीके चंद्रिका ने अपने अध्यक्षीय भाषण में सभी को बताया कि युवाओं के लिए परमात्मा की प्लैनिंग हैं साथ ही बीके निर्वेर ने संस्थान की 2018 की थीम ‘ज्ञानोदय द्वारा स्वर्णिम युग की स्थापना’ का लक्ष्य बताया।

सम्मेलन के मुख्य अतिथि पवन बंसल ने संस्था द्वारा युवाओं के लिए की जा रही सेवाओं की सराहना करते हुए कहाकि हमें अपनी आंतरिक सफाई कर और अपनी कमजोरियों से उभरकर समाज को सकारात्मक दिशा में भागीदार बनना है, वहीं श्याम सिंह राजपुरोहित ने भी अपनी शुभभावनाएं व्यक्त की।

चार दिनों तक चले इस सम्मेलन में रिवीलिंग द रियल मी, डस्टिंग द पास्ट एंड क्लीनिंग द इनर लेंस, आर्गनाइजिंग द सेल्फ, क्रिएटिव मेडिटेशन, ब्रेकिंग द बैरियर्स, वर्ल्ड ड्रामा, अटेनमेंट ऑफ पॉवर्स थ्रू राजयोगा जैसे कई विषयों पर संस्था की सीनियर फैकल्टी ने चर्चा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *