Sat. Oct 24th, 2020

Rajasthan

पुलिस की नौकरी बेहद तनावपूर्ण होती है, ऐसे में अगर तनाव से निपटने की कोई प्लैनिंग नहीं है तो तनावग्रस्त होना लाज़मी है इसी के चलते राजस्थान के श्रीगंगानगर में पुलिसकर्मियों के लिए पुलिस लाइन में तनावमुक्ति पर कार्यशाला का आयोजन हुआ यह कार्यशाला संस्था के सुरक्षा सेवा प्रभाग और स्थानीय सेवाकेंद्र द्वारा आयोजित थी।

पुलिसकर्मीयों को तनाव मुक्त रहने की युक्तियां बताने के लिए आयोजित इस कार्यशाला का शुभारंभ पुलिस अधिक्षक हरेंद्र कुमार, श्रीगंगानगर सेवाकेंद्र प्रभारी बीके मोहिनी, वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके विजय, सुरक्षा सेवा प्रभाग के कार्यकारी सदस्य कमाडेंट शिव सिंह, मुंबई से आए डॉ. दिलीप नलगे ने दीप जलाकर किया।

कार्यशाला में मौजूद वक्ताओं ने बताया कि आज के समय में सबसे खुशनसीब वहीं है जिसके विचार सभी के लिए सदा ही सकारात्मक रहते हैं और विचारों को सकारात्मक बनाने के लिए सबसे पहले जरूरी है स्वयं की वास्तविक पहचान की और आध्यात्यम उससे हमें रूबरू कराता है, वहीं राजयोग मेडिटेशन हमारी आंतरिक शक्तियों और गुणों को विकसत कर हमारे विचारों को सकारात्मक बनाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *