Sun. Oct 25th, 2020

Rajasthan

एक समय था जब गर्मी की छुट्टियों में बच्चें अपने नाना नानी या रिश्तेदारों के घर जाते थे समय बदला तो छुट्टियां बिताने का पैटर्न भी बदल गया अब अभिभावक छुट्टियों में बच्चों के हुनर को तराशने पर ज़ोर देते हैं विशेषज्ञ भी मानते हैं की गर्मी की छुट्टियों का उपयोग बच्चे के टैलेंट को उभारने में किया जाना चाहिए और समर कैंप ही वो माध्यम है, जिसमें बच्चे मौज मस्ति में ही काफी कुछ नया सीख जाते हैं ऐसा ही सुनहरा मौका मिला है देशभर के कुछ चुनिंदा बच्चों को जो आबूरोड के शांतिवन में आयोजित सात दिवसीय अखिल भारतीय बाल व्यक्तित्व शिविर में भाग लेने पहुंचे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *