Tue. Oct 20th, 2020

Rajasthan

राजस्थान के उदयपुर स्थित श्रवण बाधित बच्चों के स्कूल में स्व सशक्तिकरण एवं आध्यात्मिक जागृति के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया। स्थानीय सेवाकेंद्र प्रभारी बीके रीटा की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में ब्रह्माकुमारीज़ में दिव्यांग सेवा योजना के राष्ट्रीय संयोजक बीके सूर्यमणि एवं स्कूल के प्राचार्य माधवलाल मुख्य रूप से उपस्थित थे।

इस मौके पर स्कूल में मौजूद इन्टरप्रेटर ने साईंन भाषा के ज़रिये बच्चों को विशेष तौर पर सात दिवसीय राजयोग कोर्स के थ्रीडी मोबाइल स्प्रिीचुअल म्यूजियम के माध्यम से स्वयं का और ईश्वर का वास्तविक परिचय कराया। 90 से अधिक बच्चों और पुरे स्टाफ ने इसका लाभ लिया साथ ही संस्था द्वारा की जा रही सेवाओं की सराहना भी की।

 

वहीं आगे दृष्टी बाधित विद्यार्थियों के लिए कार्यरत गवर्नमेंट ब्लाइंड सीनियर सेकेंडरी स्कूल में भी आध्यात्मिक जागृति कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसमें 125 से भी अधिक विद्यार्थी एवं पूरा स्टाफ मौजूद था. बीके रीटा और बीके सूर्यमणि द्वारा स्मरण शक्ति को बढ़ाने के टिप्स दिए गए, साथ ही राजयोग को अपने जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाने की अपील की गई। वहीं स्कूल की प्राचार्या आभा शर्मा ने अपने विचार व्यक्त किये।

इस मौके पर सभी विद्यार्थियों ने संस्थान द्वारा बनाये गए थ्रीडी आध्यात्मिक मोबाइल चित्रों को छुकर राजयोग को समझा वहीं कार्यक्रम के अंतिम चरण में सभी बच्चों को रक्षासूत्र बाँधा गया।

 

ऐसे ही राजस्थान के बांसवाड़ा स्थित राजकीय मुक बधिर विद्यालय में उदयपुर सेवाकेन्द्र की प्रभारी बीके रीटा और बीके सूर्यमणि ने बच्चों को आत्मा और परमात्मा का ज्ञान दिया साथ ही नियमित रूप से राजयोग अभ्यास करने की प्रेरणा दी। इस मौके पर स्कूल के प्राचार्य कुलदीप शुक्ला मुख्य तौर पर उपस्थित रहे, वहीं 75 से भी अधिक बच्चों और उपस्थित पुरे स्टाफ ने  इसका लाभ लिया।

 

दिव्यांग सेवा योजना के बाद राजस्थान के अन्य कई स्थानों में संस्था के सुरक्षा सेवा प्रभाग द्वारा भी कार्यक्रम आयोजित किए गए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *