Tue. Oct 20th, 2020

Punjab

चंडीगढ़ के सेक्टर- 44 में जन्माष्टमी पर्व बहुत उमंग उत्साह एवं खुशी के साथ मनाया गया इसमें बच्चों ने श्रीकृष्ण व राधा बनकर उनकी बाल लीलायें की एवं सभी का मनोरंजन किया।

इस अवसर पर सेवाकेंद्र प्रभारी बीके पूनम एवं बीके कविता ने इस पर्व का आध्यात्मिक रहस्य बताते हुये कहा कि श्रीकृष्ण ने गोपियों के वस्त्र नहीं चुराये बल्कि जब परमात्मा शिव श्रेष्ठ धर्म की स्थापना करने अवतरित होते हैं तब इस देह रूपी वस्त्रों से लगाव मुक्त बनाते हैं, वहीं मटकी फोड़ना अर्थात दिव्य गुणों रूपी मख्खन चारों ओर फैलाना है। इस दौरान बीके कविता ने राजयोग का अभ्यास कराया एवं इसका नियमित अभ्यास करने की सलाह दी।

इस अवसर पर कार्यक्रम का लाभ प्रशासनिक अधिकारियों एवं बड़ी संख्य में नगर के लोगों ने लिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *