Sat. Oct 24th, 2020

Program on ‘Goodbye Stress’

पंजाब के रोपड़ स्थित के. एस. रिसोर्ट में अलविदा तनाव विषय पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया Iजिसमें उपायुक्त गुरनीत तेज, नगरपालिका के अध्यक्ष परमजीत सिंह मक्कड़, फार्मेसी कालेज के चेयरमेन शैलेश शर्मा, डॉ. मुकेश भाटिया, समाज सेवक डॉ. आर.एस. परमार, माउंट आबू से आयी वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बी.के. उषा, सेवाकेंद्र प्रभारी बी.के. प्रेमलता, वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बी.के. रमा मुख्य रूप से मौजूद थी।
जब हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती हैं तो मौसम और वाइरस के प्रभाव से व्यक्ति बिमार हो जाता है, ठीक उसी प्रकार मन की प्रतिरोधक क्षमता कम होने की वजह परिस्थिति और दूसरो के व्यवहार से मन तनावग्रस्त हो जाता है, जिससे तन व संबंधो पर बुरा प्रभाव पड़ता है,लोगो को इसी तनाव को अलविदा कहने के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में तनाव प्रबंधन विशेषज्ञ बी.के. उषा ने तन को स्वस्थ रखने के लिए सात्विक आहार, आराम और व्यायाम करने की बात कही और मन की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आध्यात्मिक ज्ञान से मन को चार्ज करने की बात कही।
इस दौरान बीके रमा ने तनाव का मुख्य कारण व्यक्ति की स्वयं के वास्तविक स्वरूप के प्रति गलत धारणा को बतायाऔर डॉ. आर. एस. परमार ने तनावमुक्त होने के लिए मन को काबू करने पर ज़ोर दिया।
कार्यक्रम के अंत में अतिथियों को ईश्वरीय सौगात भेंट करते हुए जीवनशैली में राजयोग को शामिल करने का आह्वान किया।
इसी क्रम में सुनाम सेवाकेंद्र पर ड्रामा के रहस्य विषय पर कार्यक्रम आयोजित हुआ ,जिसमें जैन संत अरविंद मुनि, बी.के. उषा मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की I बी.के. उषा ने इस दौरान कहा कि प्रत्येक 5000 वर्ष में ड्रामा हूबहू रिपिट होता है, और ड्रामा के हर दृश्य में कल्याण समाया हुआ है,वहीं अरविंद मुनि ने जीवन को अंहिसा, पवित्रता और सादगी से जीने की अपील की I इस दौरान सेवाकेंद्र प्रभारी बी.के. मीरा भी मौजूद थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *