Sat. Oct 24th, 2020

गुरूग्राम स्थित ओम् शांति रिट्रीट सेंटर में बच्चों के चार दिवसीय एंजल ऑफ पीस विषय पर बाल व्यक्तित्व शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें तीन सौ से आधिक बच्चों ने भाग लिया शिविर में बच्चों को नैतिक एवं चारित्रिक शिक्षा, योगासन, क्राफटिंग, डांस, खेलकूद गिफ्टस बनाने की शिक्षा दी गई।

शिविर के दौरान ओआरसी की निदेशिका बीके आशा ने बच्चों को राजयोग का महत्व बतातें हुए कहा कि इसके नियमित अभ्यास से एकाग्रता स्मरण करने की शक्ति का बढ़ती है और बच्चों को टीवी और इंटरनेट के माध्यम से विद्यार्थी जीवन में पढ़ने वाले दुष्प्रभावों को भी बताया।

शिविर के शुभारंभ अवसर पर राजस्थान के अलवर सेवाकेंद्र की प्रभारी बीके ममता ने बताया कि शिविर के पश्चात आप बच्चें यहां से शांति के फरिश्ते बनकर जायेगें। आपके द्वारा लोगों को शांति मिलेगी और उनके दुख मिट जायेगें। साथ ही वरिष्ठ राजयोग प्रशिक्षक बीके योगप्पा ने बच्चों से अनुभव साझा करते हुए कहा कि जितना आप ईश्वरीय ज्ञान सुनते जायेंगे उतना ही मन एकाग्र होता जाता है।

अंत में प्रतियोगिताओं में प्रथम द्वितीय स्थान पर रहें बच्चों को पुरुस्कृत किया गया और बच्चों ने अपने अनुभव भी व्यक्त किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *