Thu. Oct 17th, 2019

बुलेटिन की शुरूआत करते हुए हम सबसे पहले चलते हैं उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में जहां राज्य के कैबिनेट मंत्री सूर्य प्रताप शाही ब्रह्माकुमारीज द्वारा आयोजित 3 दिवसीय किसान महासम्मेलन में हिस्सा लेने पहुंचे यह सम्मेलन शहीद विजय सिंह पथिक खेल परिसर में आयोजित किया गया था जहां सैकड़ों किसानों को केंद्रीय मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने संबोधित किया और कहा कि यौगिक खेती व जैविक खेती को उत्तर प्रदेश के हर ब्लॉक के एक गांव में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में चलाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पेड़ पौधे व जीवों में भी संवेदना होती है जिससे हमारे मन का प्रभाव उन पर पड़ता है इसलिए हमें शुद्ध विचारों से खेती करना होगा और परंपरागत खेती को बढ़ाना होगा इसके साथ ही उन्होंने ब्रहाकुमारीज का इस आयोजन के लिए और लोगों में जागरूकता लाने के प्रयास की सराहना की।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने एक संदेश के माध्यम से ब्रह्माकुमारीज द्वारा किए जा रहे प्रयासों के सफलता की शुभकामनाएं दी और संस्थान द्वारा आयोजित इस योग और कल्याण महोत्सव की भी प्रशंसा की 3 दिवसीय योगा एण्ड वेलनेस फेस्टिवल 2018 के मुख्य कार्यक्रम का आगाज़ केंद्रीय मंत्री सूर्य प्रताप शाही, दादरी के विधायक तेजपाल नागर एवं जेवर के विधायक धीरेंद्र सिंह, उत्तर प्रदेश में कृषि विभाग के निदेशक सौराज सिंह, ब्रह्माकुमारीज में कृषि एवं ग्राम विभाग प्रभाग के उपाअध्यक्ष बीके राजू, करोल बाग सेवाकेंद्र प्रभारी बीके पुष्पा, इंडिया एक्सपो मार्ट के निदेशक तथा मेले के संयोजक विवेक विकास समेत अनेक अतिथियों व बीके सदस्यों ने कैंडल लाइटिंग कर किया।

सम्मेलन के दौरान माउंट आबू से आए ग्राम विकास प्रभाग के उपाअध्यक्ष बीके राजू ने अनेक बीमारियों का कारण अन्न व मन को बताते हुए शुद्ध भोजन के साथ साथ विचारों को भी श्रेष्ठ बनाने का आहवान किया तथा अन्य अतिथियों ने भी अपने विचार रखे।

इस दौरान यौगिक खेती कर रहे किसान महेंद्र ने अपने अनुभव साझा किए और शाश्वत यौगिक खेती कर रहे किसानों को सम्मानित भी किया गया।

कार्यक्रम के अंत में बीके पुष्पा ने खेती में किए जाने वाले शुभ एवं शुद्ध संकल्पों का अभ्यास राजयोग मेडिटेशन द्वारा कराया।

सम्मेलन के पहले दिन ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा के विभिन्न स्कूलों के लगभग 3 हज़ार से अधिक छात्राओं ने रंगोली, वेस्ट से बेस्ट, योगा पेंटिंग और रैली रेस जैसे अनेक प्रतियोगिताओं में भाग लिया तथा गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर अदिति सिंघल ने मेमोरी शार्प करने के रोचक तरीके बताए।

 

वहीं सम्मेलन के अंतिम दिन दिल्ली एवं एनसीआर सेवाकेंद्रों के लगभग 5 हज़ार लोगों ने विश्व शांति और प्रकृति को सुखदायी बनाने के लिए अपने शुभ संकल्पों के माध्यम से संगठित रूप से योग दिया। इस मौके पर ओआरसी की निदेशिका बीके आशा समेत संस्थान के कई वरिष्ठ पदाधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *