Sat. Oct 24th, 2020

सिक्खों के प्रथम गुरू नानक देव जी के 550 वें जन्मदिवस पर लुधियाना के पंजाब कृषि विश्वविद्यालय में इंटरफेथ ग्लोबल सम्मिट का आयोजन हुआ एलिआंस ऑफ सिख आर्गनाइजे़शन द्वारा आयोजित इस सम्मेलन में विश्व स्तरीय धार्मिक व आध्यात्मिक नेताओं में अकाल तख्त शाहिब जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह, ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान की वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके अनिता, ज्वेइस स्कालर केविन अरस्टाइड, भारत के मुख्य इमाम मौलाना मुहम्मद उमैर इलियासी, न्यूयॉर्क स्थित तिब्बतियन सेंटर के निदेशक निकोआस वेरेलैंड, फादर अजीत पैट्रिक मुख्य रूप से शामिल हुए
द लेगेसी आफ गुरू नानक शाहिब जस्टिस, पीस एंड इक्वैलिटि विषय पर आयोजित इस शिखर सम्मेलन की मेजबानी गुरसाहब सिंह ने करते हुए कहा कि इस सम्मेलन का उद्देश्य सभी धर्मगुरूओं को एक मंच पर लाना है, ताकि समाज में शांति का संदेश पहुंच सकें आगे बीके अनीता ने सभी को राजयोग के मूलभूत सिध्धान्त की जानकारी देते हुए कहाकि वेशभूषा से जो हम हिन्दु, मुस्लिम, सिख, ईसाई दिखाई देते हैं वास्तव में ये सब हमारे नकाब हैं और असली में हम सब एक ज्योति बिंदु आत्मा है जिनका एक ही पिता ऑलमाईटी गॉड है।
इसके पश्चात् बीके अनिता ने कई धार्मिक नेताओं से मुलाकात करी और चर्चा करते हुए एक पिता परमात्मा का संदेश दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *