Mon. Oct 19th, 2020

Karnal

हरियाणा, करनाल के नीलोखेरी में स्थानीय सेवाकेंद्र द्वारा नशा मुक्ति अभियान के तहत एसडीएमएन विद्या मंदिर, राजकीय वरिष्ठ माध्यामिक स्कूल, बीडीपीओ कार्यालय एवं गुरूब्रह्मनंद पालीटेक्निक कालेज में राजयोग द्वारा जीवन जीने की कला विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया व्यसन मुक्ति अभियान के निदेशक बीके डॉ. सचिन परब ने कार्यशाला में बच्चों को नशे के दुष्प्रभाव बताते हुये इनका सेवन न करने की प्रतिज्ञा कराई एवं जीवन में भौतिक शिक्षा के साथ -साथ आध्यात्मिक ज्ञान और राजयोग ध्यान का अभ्यास करने की सलाह दी।
विद्यार्थी जीवन संपूर्ण जीवन का स्वर्णिम काल है यदि इस समय विद्यार्थी अपना समय व शक्ति व्यसनों में बर्बाद करने से बचाये तो वह कई प्रकार के शारिरिक व मानसिक रोगों से बच सकते हैं, अब विद्यार्थियों को चाहिये कि वे अपना समय बौद्धिक व आध्यात्मिक क्षमता को विकसित करने में लगाये जिससे यह जीवन मूल्यवान बन सके इस कार्यशाला में सेवाकेंद्र प्रभारी बीके संगीता, बाकिपुर सेवाकेंद्र की बीके महिंद्रा सहित स्कूल स्टाफ के सदस्य एवं विद्यार्थी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *