Tue. Oct 20th, 2020

Haryana

दिल्ली और गुरूग्राम बॉर्डर स्थित होटल लीला में फेडरेशन ऑफ ऑब्सटेट्रिक एंड गायनेकोलाँजीकल सोसायटी ऑफ इंडिया अर्थात (फॉग्सी) द्वारा तीन दिवसीय ‘फॉग्सी अंतर्राष्ट्रीय महिला स्वास्थ्य सम्मेलन -2018‘ आयोजित हुआ जिसमें केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा ने संबोधित किया और कहा कि स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए महिलाओं का सशक्त होना बेहद जरूरी है, वहीं फॅाग्सी के अदभुत मातृत्व कार्यक्रम को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के साथ जोड़ने का आश्वासन दिया इस सम्मेलन में फॉग्सी के प्रेसिडेंट डॉ. जयदीप मल्होत्रा, जनरल सेक्रेटरी डॉ. जयदीप टॅंक, आइएमए के प्रेसिडेंट डॉ. रवि वानखेडकर, संयोजक डॉ. नरेंद्र मल्होत्रा, अद्भूत मातृत्व की राष्ट्रीय संयोजिका डॉ. शुभदा नील तथा ब्रह्माकुमारीज़ के आआरसी से आई बीके हुसैन भी उपस्थित थी।
फॉग्सी के अदभूत मातृत्व कार्यक्रम को आयोजित करने का मुख्य उद्देश गर्भवती माताओं तथा बच्चों का शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य, भविष्य मे होने वाले हार्ट अटेक जैसे बीमारी को कम करना, बेटी बचाओ बेटी पढाओ जैसे अभियानों को प्रोत्साहन देना है, सम्मेलन में बीके डॉ. शुभदा नील ने कहा कि गर्भवति महिलाएं अच्छे खान पान और शारीरिक स्वास्थ का ध्यान तो रखती ही है लेकिन उन्हें अपनी मन की स्थिति पर भी ध्यान देना चाहिए क्योंकि मन की स्थिति का असर भी सबसे ज्यादा बच्चे पर पड़ता है आपको बता दें बीके डॉ. शुभदा नील ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान से काफी लम्बे समय से जुड़ी हैं और संस्थान द्वारा चलाये जा रहे दिव्य माता बालक गर्भ संस्कार अभियान की निदेशिका भी हैं इस सम्मेलन में ब्रह्माकुमारीज द्वारा चित्र प्रदर्शानी भी लगायी थी जिसके द्वारा लोगो में जागरूकता लायी गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *