Wed. Oct 21st, 2020

Haryana

देश की 70 फीसदी आबादी गांवों में रहती है जो पूरी तरह कृषि पर निर्भर है। ऐसे में किसानों के लिए योजनाएं तो बनती हैं किंतु उनकी मूलभूत समस्या ज्यों की त्यों रह जाती है. हानिकारक रसायनों और कीटनाशकों ने हमारे भोजन को विषाक्त बना दिया है और इसकी वजह से स्वास्थ्य में जटिलताएं पैदा हो रही हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए, हरियाणा के अम्बाला सिटी में स्थित जडोत गाव में स्वर्ण, स्वच्छ, सशक्त भारत निर्माण के लिए ब्रह्मकुमारिज द्वारा ‘किसान सशक्तिकरण अभियान‘ का आयोजन किया गया
इस कार्यक्रम में माउंट आबू से पधारी बीके जमीला बतौर मुख्य वक्ता के रूप में मौजूद रही. उन्होंने शाश्वत योगिक खेती के बारे में किसानो को विस्तार से जानकारी दी और शुद्ध आहार का महत्व भी समझाया.
यह कार्यक्रम गांव के सरपंच गुरुदेव सिंह की उपस्थिति में संपन्न हुआ. अंत में सेवाकेंद्र प्रभारी बीके दिव्या ने जीवन में सुख शांति की बहुमूल्यता पर प्रकाश डालते हुए सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *