Mon. Jul 6th, 2020

गुरूग्राम के ओम् शांति रिट्रीट सेंटर पर तीन दिवसीय चाईनीज़ रिट्रीट का आयोजन किया गया था जिसमें चाईना से आये कई लोगों को संस्था के अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन ने संबोधित करते हुए बताया कि अगर हमें सदा काल के लिए खुश रहना है तो अपनी खुशी को, व्यक्ति, वस्तु और स्वयं के शरीर पर डिपेंड नहीं करना है बल्कि स्वयं की आंतरिक गुणों और शक्तियों पर डिपेंड होना है।

‘ग्लोबल एनलाइटेनमेंट फॉर गोल्डन एरा’ थीम पर आयोजित इस रिट्रीट में 15 चाइनीज लोग ग्वांगझो से भाग लेने पहुंचे थे जिन्हें ओआरसी की निदेशिका बीके आशा ने स्प्रीचुएलीटि का वास्तविक अर्थ बताया तो राजयोग शिक्षिका बीके ख्याति और बीके सपना ने रिट्रीट की थीम पर कई महत्वपूर्ण बाते बताई।

तीन दिन तक इस रिट्रीट में जहां राजयोग, स्प्रीचुएलीटि जैसे विषयों पर गहराई से चर्चा हुई तो वही रिट्रीट का समापन इंडो चाइनीज कल्चरल प्रोग्राम के साथ हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *