Tue. Oct 27th, 2020

Dhuri, Punjab

पंजाब में संगरुर ज़िले के धूरी में अलविदा तनाव विषय पर दो दिवसीय शिविर का आयोजन हुआ, जिसकी मुख्य वक्ता मुख्यालय माउण्ट आबू से आई वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके उषा थी। इस शिविर में अपना वक्तव्य देते हुए बीके उषा ने बताया कि अपने ही नकारात्मक विचारों की वजह से तनाव बढ़ता है, इसलिए प्रतिदिन राजयोग का अभ्यास व्यक्ति की सोच को सकारात्मक व श्रेष्ठ बनाती जाती है।

बीके उषा के धूरी पहुंचने पर संस्थान के सदस्यों द्वारा उनका भव्य स्वागत हुआ, जिसके पश्चात् दो दिवसीय इस शिविर में स्थानीय रहवासियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया, तनाव एक ऐसी समस्या बन गई है, जो केवल बडे़ बुजुर्गों में नहीं बल्कि बच्चे भी आज.. तनाव का शिकार होते नज़र आ रहे है ब्रह्माकुमारीज़ निरन्तर ऐसे आयोजनों से लोगों को सुखमय जीवन जीने की कला सिखाने का प्रयास करती रहती है, इसी कड़ी धूरी में यह शिविर सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ।

इस कार्यक्रम का उद्घाटन आए हुए महमानों ने दीप जलाकर किया, जिनमें एडवोकेट धनबंत सिंह, कैम्ब्रिज स्कूल की वाईस प्रिंसिपल मीनाक्षी सक्सेना, धूरी ब्लोक के इण्डस्ट्रीअल चैम्बर के अध्यक्ष संजय गोयल, व्यापार मंडल के अध्यक्ष विकास जैन, पी.टी.सी चैनल से एन.के. कांसल, बरनाला से आई बीबी हरप्रीत कौर, सेवाकेन्द्र प्रभारी बीके मूर्ती समेत अन्य कई विषिष्ट अतिथि शामिल थे, जिन्हें ईश्वरीय सौगात भी भेंट की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *