Mon. Oct 14th, 2019

Delhi

दिल्ली के डेरावाल नगर स्थित ज्ञान विज्ञान भवन में पैरामेडिकल व्यवसायियों के लिए कायक्रम आयोजित किया गया, जिसका विषय रहा मीटिंग मायसेल्फ फॉर हीलिंग अदर्स। इस अवसर पर 60 से अधिक पैरामेडिकल्स ने भाग लिया, जिन्हें मरीज़ के उपचार के लिए किस तरह एक चिकित्सक की भूमिका.. स्वयं के लिए भी बहुत ज़रुरी है.. इस पर आध्यात्मिक चर्चाओं एवं सत्रों के माध्यम से लाभान्वित किया गया।
इस कार्यक्रम के पहले पैनल परिचर्चा में एम्स दिल्ली के एनेस्थीसिया की पूर्व विभागाध्यक्षा डॉ. उषा किरण, निरोगम मेडिकेयर की निदेशिका एवं गायनाकॉलोजिस्ट डॉ. मंजू गुप्ता तथा स्थानीय सेवाकेन्द्र की राजयोग शिक्षिका बीके लता से इंटरेक्टिव बीज़ की निदेशिका मोनिका गुप्ता ने वर्तमान समय चिकित्सकों की बदलती छवी को लेकर तथा अन्य कई प्रश्न पूछे। सुनते है वक्ताओं के विचार… इस सत्र के अंत में सभी को बीके लता ने कॉमेन्ट्री द्वारा राजयोग का गहन अभ्यास कराया।
कार्यक्रम के दूसरी पैनल परिचर्चा में मुख्य वक्ता के तौर पर दिल्ली शक्ति नगर सेवाकेन्द्र की प्रभारी एवं रशिया में ब्रह्माकुमारीज़ की निदेशिका बीके चक्रधारी ने अपनी शुभआशाएं व्यक्त की, वहीं एम्स की चीफ नर्सिंग ऑफिसर चांद भारद्वाज, हेड गेवार हॉस्पिटल से आए चीफ फार्मासिस्ट मनोहर सिंह ने अपने सुन्दर अनुभवों को साझा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *