Sun. Oct 25th, 2020

Delhi

दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में ज्ञानोदय द्वारा स्वर्णिम युग थीम के तहत विशाल ध्यान साधना कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें पूरे दिल्ली से हजारों की संख्या में लोग भाग लेने पहुंचे। इस आध्यात्मिक समागम में ब्रह्माकुमारीज संस्था के अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन, ओआरसी की निदेशिका बीके आशा, सहनिदेशिका बीके शुक्ला, दिल्ली पांडव भवन की प्रभारी बीके पुष्पा, सत्कार भवन के निदेशक बीके सत्यप्रका समेत कई वरिष्ठ लोग उपस्थित रहे।

तालकटोरा स्टेडियम में धवल वस्त्रों वाले ब्रह्माकुमारीज संस्था से जुड़े भाई बहनों से जगमगा उठा। जिधर देखों उधर केवल शांति और दिव्यता का संदेश ही था। कभी शांति तो कभी योग का प्रकम्पन पूरे दिल्ली के लोगों को जरुर सुकुन दे गया होगा। क्योंकि वर्तमान भागदौड़ भरी जिन्दगी में शांति के लिए आध्यात्मिक ज्ञान और राजयोग के अलावा कोई और विकल्प नहीं है। बाईटः
शांति और सद्भावना के लिए आयोजित इस समागम को सम्बोधित करते हुए ब्रह्माकुमारीज संस्था के अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन ने कहा कि राजयोग और आध्यात्मिक शक्ति के प्रयोग पूरे विश्व में शांति स्थापित की जा सकती है।
यह समारोह में चार चांद और लग गये जब देश के राष्ट्पति द्वारा ग्लोबल हास्पिटल की नर्सिंग कोआर्डिनेटर बीके रुपा को आदर्श सेवाओं के लिए दिये गये फलोरेंस नाईटिंगल एवार्ड को प्रदर्शित किया गया। कार्यक्रम में ग्लोबल हास्पिटल के चिकित्सा निदेशक डॉ. प्रताप मिडढा समेत कई लोगों ने शुभकामनाएं दी।
तकरीबन दो घंटे तक चले इस कार्यक्रम से पूरा माहौल अध्यात्ममय हो गया। हजारों लोगों ने पूरे विश्व में शांति एवं सदभावना के लिए ध्यान साधना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *