Thu. Oct 22nd, 2020

Delhi

लोगों में तेज़ी से बढ़ते तनाव से जीवन पर बुरा असर पड़ रहा है। अगर यही हालात रहे तो आने वाले समय में अधिकतर बीमारियों का कारण तनाव होगा। हालाकि इससे निबटने के लिए कई प्रकार के प्रयास किये जा रहे है। परन्तु ये नाकाफी है। ऐसे में ब्रह्माकुमारीज संस्थान ने लगातार आध्यात्मिक ज्ञान और राजयोग के ज़रिऐ काफी हद तक इसपर सफलता प्राप्त की है। इसकी कड़ी में दिल्ली के आल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन में अलविदा तनाव विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें बड़ी संख्या में अधिकारी एवं कर्मचारी शरीक हुए।
कार्यशाला में तनावों के कारण तथा उसके निवारण के लिए लोधी रोड सेवाकेन्द्र के वरिष्ठ तनाव प्रबन्धन विशेषज्ञ बीके पीयूष ने कहा कि व्यक्ति की सकारात्मक सोच ही उसे तनाव से मुक्त बना सकती है।
कार्यशाला की सफलता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि प्रतिभागियों ने उमंग में आकर अपने संबंधों तथा कार्यव्यवहार में आने वाले लोगों के प्रति अच्छा सोचने का संकल्प लिया। इस दौरान राजयोग मेडिटेशन का लाभ बताते हुए प्रतिभागियों को गहन योगानुभूति कराई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *