Tue. Dec 18th, 2018

Betiya, Bihar

बिहार के बेतिया स्थित सरस्वती विद्या मंदिर स्कूल में नैतिक शिक्षा का मूल्य विषय पर प्रकाश डालने के लिए विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया. वरिष्ठ राजयोग प्रशिक्षक बीके भगवान् ने विद्यार्थियों को नैतिक शिक्षा का महत्व बताते हुए भौतिक शिक्षा के साथ चरित्र निर्माण और सकारात्मक व्यवहार रखने की प्रेरणा दी साथ ही स्वयं का वास्तविक परिचय देते हुए आध्यात्मिकता की सही परिभाषा बताई।

इस अवसर पर स्कूल के प्राचार्य आशुतोष दास, स्थानीय सेवाकेंद्र प्रभारी बीके अंजन, बीके राकेश समेत पूरा स्टाफ मौजूद था वही अंत में सभी को मेडिटेशन कमेंट्री द्वारा राजयोग का अभ्यास भी कराया गया।

आगे गुलाब बाग सेवाकेंद्र पर व्यापारी और डॉकटर्स के लिए सकारात्मक चिन्तन विषय के तहत स्नेह मिलन कार्यक्रम का आयोजन हुआ. इस मौके पर डॉ. अनिल मोटवानी, डॉ. रंजित राय, व्यापारी प्रमोद सिंघानिया समेत कई गणमान्य अतिथि मुख्य रूप से शामिल हुए. इस अवसर पर बीके भगवान् ने काम, क्रोध, लोभ, मोह एवं अहंकार जैसे विकारों से बचने और दैवी गुण धारण करने पर जोर दिया साथ ही राजयोग अभ्यास द्वारा जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने की अपील की।

इसी कड़ी में आगे सभी बीके सदस्यों के लिए स्थानीय सेवाकेंद्र पर भी राजयोग का जीवन में महत्व विषय पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया. रिद्धि सिद्धि होटल के ओनर अविरल मोटवानी की मुख्य उपस्थिति में बीके भगवान् ने राजयोग से जुड़े गहन विषयों पर प्रकाश डालते हुए तनावपूर्ण परिस्थितियों में मन को एकाग्र और शांत रखने के लिए राजयोग को संजीवनी बूटी बताते हुए संकल्प शक्ति के महत्व की जानकारी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *