Sat. Oct 24th, 2020

Diwali celebrated

दीपों का पर्व दीपावली पूरे देश और दुनिया में हर्षोल्लास से मनाया गया। भारतीय त्योहारों में दीपावली का पर्व कई मायनों में खास अहमियत रखता है। ऐसा
माना जाता है कि इस दिन घर के कोने कोने की सफाई इसलिए होती है,ताकि लक्ष्मी का वास हो और दूसरे परिपेक्ष्य में ऐसा भी माना जाता है कि जब श्रीराम लंका
पर विजय प्राप्त करके आये तो उनकी खुशी में दीये जलाये गए थे। परन्तु इसके आध्यात्मिक रहस्यों के साथ दीपावली मनाना अपने आप में खास है।
इसी कड़ी मे ब्रह्माकुमारीज संस्था के अन्तर्राष्ट्रीय मुख्यालय में दीपावली अलग अंदाज में मनायी गयी। संस्था के अन्तर्राष्ट्रीय मुख्यालय शांतिवन, पांडव भवन और
ज्ञान सरोवर में दीपावली के पर्व पर पूरा परिसर रंग बिरंगी रोशनी से नहा उठा। चारो तरफ मिटटी के दीपकों के साथ रंग बिरंगी रोशनी से नहाते शांतिवन परिसर में
आयोजित कार्यक्रम में ब्रह्माकुमारीज संस्था की मुख्य प्रशासिका राजयेागनी दादी जानकी, संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयेागिनी दादी रतनमोहिनी, संस्था के महासचिव
बीके निर्वेर, कार्यक्रम प्रबन्धिका बीके मुन्नी, कोषाधिकारी राजयोगिनी दादी ईशू समेत संस्था के वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित रहे।
हजारों लोगों से खचाखच भरे डायमंड हाल में सभा को सम्बोधित करते राजयोगिनी दादी जानकी ने कहा कि हमें इन दीपकों से सीखने की जरुरत है। ताकि हम
अपने अंदर ज्ञान की रोशनी भरकर अज्ञान अंधकार को दूर करें।
संस्था के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारियों ने भी अपने विचारों से अवगत कराते हुए कहा कि दीपावली का पर्व केवल दीपक जलाने ही नहीं बल्कि ज्ञान घृत से सबके
अन्दर ज्ञान का प्रवाह करें अन्दर बाहर की इतनी सफाई करें कि लक्ष्मी का स्वतः आगमन हों।
ज्ञान सरोवर परिसर में भी दीपावली का पर्व अलग अंदाज में दिखा। जिसमें पूरे परिसर में ऐसा लगा जैसे कि इन्दलोक उतर आया हो। टिमटिमाते रोशनी के
दीपकों के बीच बाग बगीचों की सुन्दरता अलग स्थिति बयान कर रही थी। जिसमें दादी जानकी, ज्ञान सरोवर की निदेशिका बीके डॉ. निर्मला, यूरोपियन सेवाकेन्द्रों
की निदेशिका बीके जयन्ती समेत कई देशों के प्रतिनिधि बहनें और संस्था से जुड़े सदस्यों को आध्यात्मिक रहस्य से अवगत कराया।
संस्थान के अन्तर्राष्ट्रीय मुख्यालय पांडव भवन की दीपावली में अलग छटा दिख रही थी। संस्थान के वरिष्ठ पदाधिकारियों तथा देशी विदेशी मेहमानों के बीच
शांतिपूर्वक और पर्यावरण मुक्त दीपावली मनाया गया। जिसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। इस उपलक्ष्य में पांडव भवन और खासकर ओम शांति भवन को अलग
अलग अंदाज में सजाया गया था।
इसी क्रम में मनमोहिनी परिसर, ग्लोबल हास्पिटल तथा संगम भवन एवं म्यूजियम में भी दीपावली मनायी गयी जहां आनंद, उत्साह और बेहद खुशी का माहौल
देखने को मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *