Wed. Oct 28th, 2020

क्रिसमस….माना ही सांता क्लॉज, मोमबत्तियों व सितारों की चमक, घंटियों की खनक, सुंदर सजावट, बिजली के जगमगाते बल्ब, ग्रीटिंग कार्ड, गीत-संगीत… दरअसल अब यह त्योहार किसी एक समुदाय विशेष का न होकर सभी धर्मों और मान्यताओं का सामूहिक उत्सव बन गया है। मुख्यालय समेत ब्रह्माकुमारिज के सेवाकेन्द्रों पर भी आध्यात्मिक रहस्य के साथ इस त्यौहार को बड़ी धूमधाम से मनाया गया…देखते है उनकी कुछ झलक….

क्रिसमस के अवसर पर संस्थान के मुख्यालय शांतिवन में बहुत ही शानदार कार्यक्रम का आयोजन हुआ, जिसमें भारत समेत दुनिया भर से आए संस्थान के सदस्यों ने भाग लिया। इस उत्सव की रौनक बढ़ाने खुद 103 वर्षिय राजयोगिनी दादी जानकी ने शरीक होकर सभी को क्रिसमस की बधाई दी और इस पर्व को खुशी और उत्साह का पर्व बताया।

इस अवसर पर संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी, दिल्ली ज़ोन की प्रभारी राजयोगिनी दादी रुकमणि, कोषाध्यक्ष राजयोगिनी दादी इशु, संस्था के महासचिव बीके निर्वैर, ज्ञान सरोवर की निदेशिका बीके डॉ. निर्मला, मलेशिया में संस्था की निदेशिका बीके मीरा समेत अन्य कई वरिष्ठ पदाधिकारियों ने केक काटकर अपनी शुभभावनाएं व्यक्त की।

इस दौरान सांता क्लोज़ ने स्टेज पर विराजमान वरिष्ठ पदाधिकारियों को गिफ्ट् दिए… जिसके गीत संगीत और नृत्य की प्रस्तुतियों ने कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। वहीं सभा में उपस्थित लोगों तथा छोटे बच्चों को भी सांता क्लोज़ ने टोफिज़ बांटी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *