Tue. Oct 20th, 2020

ब्रह्माकुमारीज के युवा प्रभाग द्वारा आयोजित इ कॉन्फ्रेंस के पिछले दो सत्रों में बदलाव पर लोगों को गहराई से बताया गया कि जीवन में परिवर्तन क्यों आवश्यक है, हम चुनौतियों का सामना कैसे करें और अपने जीवन में परिवर्तन की यात्रा में सफलता पूर्वक आगे कैसे बढ़ें, चूंकि परिवर्तन के लिए बहुत जरूरी है खुद को पहचान लेना, क्योंकि जो अपनी आंतरिक क्षमताओं और विशेषताओं को जान लेता है उसके लिए परिवर्तन करना सहज हो जाता है इसीलिए सम्मेलन के अंतिम सत्र में इमर्जिंग द न्यू मी विषय को चुना गया जिसमें एक्टर एंड मॉडल सिद्धार्थ शुक्ला और विशाल जेठवा समेत कई प्रसिद्ध लोगों ने युवाओं को अपने अनुभवों से बताया कि अच्छी बातों को सुनना ही नहीं बल्कि उसे जीवन में धारण करने से हम सफल बन सकते हैं।
अभी हम अन्य वक्ताओं से भी सुनेंगे उनके विचार लेकिन उससे पहले सुनते हैं ये मधुर गीत जो कि बॉलीवुड के प्लेबैक सिंगर हरीश मोयल ने प्रस्तुत किया और गीत के जरिए ये संदेश भी दिया कि परमात्मा को अपना साथी बना लें तो जिसका साथी स्वयं भगवान होता है उसकी पूरी दुनिया साथी बन जाती है। युवा प्रभाग द्वारा आयोजित सम्मेलन का ये सेशन अंतिम था लेकिन काफी अनुभवों और प्रेरणाओं से भरा हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *