Mon. Oct 26th, 2020

महिला दिवस पर विशेष… नारी ही शक्ति है नर की, नारी ही शोभा है घर की, वो बेटी, बहु कभी मां बनकर, सबके सुख दुख को प्रेम से सहकर, अपने सब फर्ज निभाती है तभी तो वो नारी कहलाती है एक नारी के अन्दर सभी शक्तियां समाहित हैं वो दुर्गा है, लक्ष्मी है, सरस्वती है और उससे भी बढ़कर कहें तो वो शिव की शक्ति है बस ज़रूरत है तो सिर्फ उसे उसकी शक्तियों की पहचान कराने की, उसका स्वमान जगाने की तो जिसमें महिला दिवस पर देश-विदेश की प्रतिष्ठित महिलाओं ने अपने अनुभव हमारे साथ साझा किए हैं और नारियों को प्रेरित करने के लिए सुंदर संदेश दिया है
सुना है कि एक नारी सब कुछ हासिल कर सकती है, जीवन के हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त कर सकती है बस उसे इन कुछ खास बातों को अपने जीवन में उतारना होगा यदि शिव की शक्ति कही जाने वाली महिलाएं राजयोग द्वारा परमात्मा से अपने गुणों और शक्तियों को जागृत कर लें तो नारी सिर्फ अपने घर को ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया को स्वर्ग बना सकती है चलिए अब बढ़ते हैं खबर की ओर जिसमें सबसे पहले आपको ले चलते हैं गुरूग्राम के ओआरसी जहां महिलाओं के लिए विशेष महिला समाज परिवर्तन का आधार विषय पर कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें सफल महिलाओं ने अपने विचार रखे।
नारी की महत्ताओं और उसकी अद्भुत शक्ति के बारे में ओआरसी की निदेशिका बीके आशा तथा वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके शिवानी ने भी अपना सुंदर वक्तव्य दिया जो सभी महिलाओं के लिए प्रेरणादायी रहा।
कार्यक्रम के अंत में मलेशिया की निदेशिका बीके मीरा ने योग का अनुभव कराते हुए कहा कि मन को सकारात्मक एवं परित्र विचारों की ओकर ले जाना ही योग है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *