Sat. Oct 19th, 2019

ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान के मुख्यालय शांतिवन में चल रहे वैश्विक शिखर सम्मेलन से करेंगे शांतिवन में विश्व के 140 देशों से 7 हज़ार से अधिक जानी मानी हस्तियां और विद्वान.. 5 दिवसीय.. इस वैश्विक शिखर सम्मेलन का हिस्सा बनने पहुंचे है। इस सम्मेलन का विषय है आध्यात्मिकता द्वारा एकता, शांति और समृद्धि, जिस पर चर्चा करने के लिए प्रत्येक दिन.. अलग-अलग सत्र आयोजित किए गए है।
सम्मेलन में केन्द्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि ब्रह्माकुमारी संगठन की ओर से नारी शक्ति के सम्मान में जो कार्य किया जा रहा है वह इतिहास में लिखा जाएगा वहीं उन्होंने दादी जानकी के सम्मान में कहा- कि दादी ‘भारत की विशिष्टत है। आगे केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री कृष्ण रेड्डी ने कहा कि आध्यात्मिक शक्ति हमें सही दिशा दिखाती है और बुराईयों से मुक्त करती है।
इस अवसर पर संस्था प्रमुख राजयोगिनी दादी जानकी, अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन, संस्था की महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश एवं तेलंगाना ज़ोन की निदेशिका बीके संतोष समेत मौजूद वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं विदेशी महमानों ने भी आयोजित विषय पर अपने विचार व्यक्त किए। इससे पूर्व.. उद्घाटन के दूसरे सत्र में केन्द्रीय भारी उद्योग राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने अपने वक्तव्य में आध्यात्म और पर्यावरण के समन्वय को समय की मांग बताया।
इन सत्रों के दौरान कई समाज के परिवर्तन कारियों का सम्मान भी किया गया, जिनमें तिरुवनन्तपुरम से आई ज्योतिर्गमया फाउण्डेशन की फाउण्डर टिफ़नी बरार, न्यू दिल्ली से आई स्टाप सेल एसिड की फाउण्डर लक्ष्मी अग्रवाल, निर्भया वाहिनी की फाउण्डर मानषी प्रधान, तरुणा की फाउण्डर ममता रघुवीर, नवभारत टाइम्स के चंद्रभूषण और गुलशन राय खत्री समेत अन्य कई समाजसेवियों को सामाजिक कार्यों में उल्लेखनीय योगदान के लिए ब्रह्माकुमारीज़ की ओर से मोमेंटों भेंटकर सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *