Sat. Oct 19th, 2019

Sunguvarchatram, Tamil Nadu

विश्व भर में शांति, सांप्रदायिक सौहार्द और सार्वभौमिक भाईचारे के लिए मूल्य आधारित समाज की स्थापना करना आवश्यक है जो राजयोग द्वारा ही सम्भव है। इन्हीं कुछ संकल्पों को लेकर तमिलनाडु में सुन्गुवार्चात्रम के पोदावुर गांव स्थित ब्रह्माकुमारीज़ के हैप्पी विलेज रिट्रीट सेन्टर में वन गॉड वन वर्ल्ड फैमिली थीम पर दिवसीय सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें बतौर मुख्य अतिथि के तौर पर तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने शिरकत की, उनके आगमन पर बीके बहनों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। सम्मेलन में अपना वक्तव्य देते हुए उन्होंने ब्रह्माकुमारीज़ के आदर्शों की प्रशंसा की। विभिन्न धर्मों के गुरुओं को सम्मानित करने के लिए यह सम्मेलन आयोजित किया गया था.. जिसमें हिंदू धर्म, जैन, ईसाई, इस्लाम, बौद्ध तथा कई उप-समूहों का प्रतिनिधित्व करने वाले लगभग 1000 प्रतिनिधियों को सम्मानित किया गया, इस सम्मेलन का उद्घाटन सभी विशिष्ट अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया था उद्घाटन सत्र को सम्बोधित करते हुए तिरुवनंतपुरम के संतागिरी आश्रम के महासचिव स्वामी गुरुरत्नम जनाना तपस्वी, आरकडायसिस ऑफ़ मदरास के रेक्टर एवं पैरिश प्रीस्ट एस. थौमस इलंगो, ईद खा मस्जिद के चीफ इमाम मौलवी के.एम. इलयास रिया समेत अन्य अतिथियों ने अपनी शुभकामनाएं व्यक्त की। सम्मेलन की मुख्य वक्ता.. माउण्ट आबू से आई वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके ऊषा ने सभी धर्म गुरुओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि परमात्मा ने हम सभी को इस विश्व को परिस्तान बनाने की ज़िम्मेवारी दी है। वहीं तमिलनाडु ज़ोन की सर्विस कॉर्डिनेटर बीके बीना, वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके मुथुमनी, बीके कलवती, बीके नीलिमा एवं अन्य वरिष्ठ सदस्यों ने भी अपने विचार रखें।
सत्र के अंत में राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने मेडिटेशन कक्ष में कुछ क्षण व्यतीत करने पश्चात् प्रस्थान किया। सम्मेलन के समापन सत्र में राज्य के हिंदु रीलिजिस एंड चैरेटेबल एंडोमेंट्स मिनिस्टर सेववूर एस. रामचंद्रन, संस्था के धार्मिक प्रभाग के मुख्यालय संयोजक बीके रामनाथ एवं इस्कान के एच.जी. गृधारी दास, बीके उमा, बीके देवी समेत मौजूद अन्य कई धर्मगुरुओं ने आयोजित विषय को लेकर अपने विचार व्यक्त किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *