Tue. Dec 1st, 2020

Shimla, Himachal Pradesh

बुलेटिन की शुरुआत आज हिमाचल प्रदेश से जुड़ी है जहां पर्वतीय राजधानी शिमला में स्थित ब्रह्माकुमारीज़ के सेवाकेन्द्र पर विज्ञान एवं अभियन्ता प्रभाग द्वारा खुशनुमा ज़िन्दगी विषय पर राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन हुआ, जिसका शुभारम्भ खुद हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत के कर कमलों से हुआ।
सेमिनार की शोभा बढ़ाते हुए राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने बड़ी सरलता से खुशनुमा ज़िन्दगी की राज़ बताए।
अपने वक्तत्य में कुछ इस तरीके से उन्होंने आत्मा तथा परमात्मा के कनेक्शन की बात की जो मौजूद लोग तालियां बजाने पर मजबूर हो गए।
इस अवसर पर प्रभाग के उपाध्यक्ष बीके मोहन सिंघल ने संस्था प्रमुख राजयोगिनी दादी जानकी द्वारा भेजा गया संदेश सभी को सुनाया, वहीं राष्ट्रीय संयोजक बीके भारत भूषण ने बताया कि किस तरह.. ब्रह्माकुमारी संस्था समाज में लोगों के जीवन को खुशनुमा बनाने के गुर सिखा रही है।
सेमिनार में राज्यपाल की पत्नि दर्शना देवी, राज्यपाल के सलाहकार डॉ. शशिकांत शर्मा, शिमला की सर्किल प्रभारी बीके अस्जा, मुख्यालय माउण्ट आबू से आए बीके प्रकाश, पानीपत से आई बीके ज्योति समेत पूरे राष्ट्रभर के लगभग 150 अभियंताओं एवं वैज्ञानिकों को कपूरथला की बीके लक्ष्मी ने राजयोग का अभ्यास कराया जिसके पश्चात् राज्यपाल आचार्य देवव्रत को शॉल ओढ़ाकर एवं ईश्वरीय सौगात भेंटकर सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *