Sat. Oct 24th, 2020

Lucknow, Uttar Pradesh

शरीर को स्वस्थ्य रखने की विद्या है योगा लेकिन मन और कर्मेन्द्रियों को स्वच्छ एवं संस्कारित रखने की विधा है रायजोग मेडिटेशन मनुष्य दोनो के प्रयोग से जीवन को स्वस्थ और सम्पन्न बना सकता है यही संदेश देने का प्रयास किया लखनउ के गोमती नगर सेवाकेंद्र ने सेवाकेंद्र प्रभारी बीके राधा के मार्गदर्शन में अयोजित इस कार्यक्रम में मंत्रीयों और जानकारों से वार्तालाप की गयी आइए दिखाते है उसकी कुछ तस्वीरें वहीं पतंजलि के योगागुरू ने कई आसनों के लाभ बताने के साथ उनका प्रशिक्षण भी दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *