Fri. Aug 7th, 2020

Dehradun, Uttarakhand

ब्रह्माकुमारीज़ के चिकित्सा प्रभाग द्वारा उत्तराखण्ड में 25 दिवसीय मेरा उत्तराखण्ड व्यसनमुक्त उत्तराखण्ड अभियान चलाया जा रहा है जिसकी लांचिंग एवं उद्घाटन देहरादून के मुख्य सेवाकेन्द्र सुभाष नगर से की गई। इसके शुभारम्भ पर मुख्यालय से आए प्रभाग के सचिव बीके डॉ. बनारसी लाल ने बताया कि नशे का मुख्य कारण तनावपूर्ण जीवन है और तनाव से राहत राजयोग मेडिटेशन के माध्यम से आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।
इस कार्यक्रम में चारधाम विकास परिषद के उपाध्यक्ष आचार्य शिव प्रसाद ममगई, लॉ एण्ड ऑर्डर के ए.डी.जी.पी अशोक कुमार, आई.एम.ए अध्यक्ष डॉ. संजय कुमार गोयल, मुम्बई से आए व्यसनमुक्ति अभियान के निदेशक बीके डॉ. सचिन परब, इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड होल्डर बीके डॉ. संजय, मेडिकल विंग पंजाब ज़ोन के इंचार्ज बीके डॉ. राम प्रकाश, देहरादून सबज़ोन प्रभारी बीके मंजू, हेल्थ सर्विसिज़ उत्तरप्रदेश के पूर्व निदेशक बीके डॉ. रामबाबू विशेष रुप से उपस्थित थे।
कार्यक्रम का आगाज़ सभी मुख्य अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन से किया गया, जिसके पश्चात् उत्तराखण्ड राज्य को व्यसनमुक्त बनाने के लिए चलाए जा रहे इस अभियान को लेकर सभी ने अपनी शुभआशाएं व्यक्त की। इस मौके पर बीके डॉ. सचिन ने बताया कि नशे से बचने और इसे रोकने के लिए एक मज़बूत इच्छा शक्ति का होना अति आवश्यक है। वहीं संस्था के अन्य सदस्यों ने भी लोगों में व्यसनमुक्ति के प्रति जागृति लाने का आह्वान किया।इस दौरान कार्यक्रम के अंत में सभी उपस्थित लोगों से नशामुक्ति के लिए प्रतिज्ञा भी कराई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *