Wed. Jan 22nd, 2020

तनाव, असंतुलित खान-पान, अनियमित दिनचर्या से कई प्रकार की बीमारियां आ जाती है, लेकिन इसमें सबसे खतरनाक है मधुमेह क्योंकि मधुमेह बाहर से दिखता नहीं लेकिन अन्दर से खोखला कर देता है। मधुमेह रोग से लोगों को अवगत कराने एवं उसके उपचार के लिए विश्व डायबिटीज़ दिवस पर ब्रह्माकुमारीज़ के मुख्यालय शांतिवन में मेडिकल प्रभाग द्वारा परिवार और मधुमेह थीम पर कार्यक्रम का आयोजन हुआ। जिसके शुभारम्भ पर संस्था की मुख्य संचालिका राजयोगिनी दादी जानकी ने राजयोग द्वारा स्वस्थ जीवनशैली बनाने की बात कही। डायमंड हॉल में आयोजित कार्यक्रम में देशभर से बड़ी संख्या में लोग भाग लेने पहुंचे थे, जिनको सम्बोधित करते हुए ग्लोबल हॉस्पिटल के मुधमेह रोग विशेषज्ञ बीके डॉ. श्रीमंत साहू ने कहा कि डायबिटीज़ तेज़ी से बढ़ता हुई एक ऐसी बीमारी है जिसके उम्र की समय सीमा को भी तोड़ दिया है। आगे और जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि यदि हम समय रहते इसको नियंत्रित करने की कोशिश नहीं करेंगे तो परिवार में हर किसी को डायबिटीज़ हो जाएगी। कार्यक्रम में आबूरोड सदर थानाधिकारी आनन्द कुमार ने कहा कि ब्रह्माकुमारीज़ संस्था की यह पहल निश्चित तौर पर लोगों में मधुमेह निवारण के लिए जागरुकता पैदा करेगी। इस दौरान संस्था के महासचिव बीके निर्वैर, अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन, महाराष्ट्र आंधप्रदेश एवं तेलंगाना ज़ोन की निदेशिका बीके संतोष, कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय, मीडिया प्रभाग के अध्यक्ष बीके करुणा, सोशल एक्टिविटी ग्रुप के अध्यक्ष बीके भरत, मेडिकल प्रभाग के कार्यकारी सचिव बीके डॉ. बनारसी लाल समेत अन्य विशिष्ट लोगों ने भी अपने विचार रखे। इस आयोजन से पूर्व मेडिकल प्रभाग द्वारा रैली भी निकाली गई, शांतिवन से शुरु हुई ये रैली तलहटी, मुखरी माता से होते हुए शांतिवन में आकर समाप्त हो गयी। इस रैली में पोस्टर तथा बैनर लेकर बड़ी संख्या में संस्था के सदस्यों ने मधमेह से होने वाले नुकसानों तथा उससे बचने के उपाय पर स्लोगन लेकर चल रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *