Mon. Sep 16th, 2019

ब्रह्माकुमारीज संस्थान के अंतर्राष्ट्रीय मुख्यालय शांतिवन से है जहॉ संस्थान की संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी का 95वां जन्मदिन एक नये संकल्प के साथ मनाया गया। हजारों लोगों की उपस्थिति में डायमंड हॉल में लोगों ने कैंडल जलाकर समाजोत्थान का संकल्प लिया। खचाखच भरे डायमंड हॉल में आयोजित इस समारोह में देशभर से करीब 18 हजार लोग शामिल हुए। इस मौके पर संस्था के महासचिव बीके निर्वेर, अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन, तथा कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय, मीडिया प्रभाग के अध्यक्ष बीके करुणा ने अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि दादी आज भले ही 9 वर्ष की हो गयी है परन्तु उनमें युवाओं जैसा जोश निश्चित तौर पर लोगों में आध्यात्मिक उर्जा का संचार करेगा।
समारोह तब पूरे विश्व में एक संदेश देने में कामयाब रहा जब पूरे हॉल में बैठे हजारों लोगों ने मोकबत्त्यिं जलाकर समाजोत्थान का संकल्प लिया। इसके बाद दादी समेत मंचासीन अतिथियों ने केक काटकर जन्मदिन मनाया। इसके साथ ही दादी ने अपने दीर्घायु में राजयोग की भूमिका और आध्यात्मिक ज्ञान का लोहा माना। इस समारोह में ब्रह्माकुमारीज की कार्यक्रम प्रबन्धिका बीके मुन्नी शांतिवन के प्रबन्धक बीके भूपाल, बीके भरत समेत कई लोग उपस्थित थे।
समारोह केवल प्रवचन और आशिवर्चन ही नहीं बल्कि नन्हें बाल कलाकारों की शानदार प्रस्तुतियों से भी भाव विभोर रहा। नृत्य नाटिका से लेकर सांस्कृतिक कार्यक्रम तक कलाकारों ने प्रदर्शन किया। उनकी प्रस्तुतियों से पूरा हॉल भाव विभोर हो गया। दादी के आगमन हो या उनके सम्मानित करने का सिलसिला जारी रहा। हर कोई इसका जमकर लुत्फ उठाया। कभी खामोशी तो कभी कौतूहल भरे अंदाज लोगों के देखने लायक थे।
इस अवसर पर दादी ने कहा कि परमात्मा का संदेश देना ही हमारा मूल मकसद है। जिससे मानव जीवन का कल्याण हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *