Wed. Oct 21st, 2020

Mount Abu, Rajasthan

कोरोना के संकट ने सिर्फ पुलिसकर्मी व चिकित्सकों की ही नहीं बल्कि किसानों की जिंदगी को भी काफी प्रभावित किया है ऐसे में उन्हें शाश्वत यौगिक खेती के बारे में जानकारी देने तथा आत्मनिर्भर व तनावमुक्त बनाने के उद्देश्य से ब्रहाकुमारीज़ के कृषि एवं ग्राम विकास प्रभाग द्वारा 3 दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कृषि ई सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसके उद्घाटन सत्र में किसान सशक्तिकरण द्वारा आत्मनिर्भर भारत का निर्माण विषय पर चर्चा की गई।
किसान जो अन्नदाता है वे स्व निर्भर बनें और उनका जीवन खुशहाल बने इस लक्ष्य के साथ आयोजित ई सम्मेलन में केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री पुरूषोत्तम रूपाला, उत्तर प्रदेश कृषि निदेशालय के असिस्टेंट डायरेक्टर बीके बद्री विशाल तिवारी और ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान के अतिरिक्त महासचिव बीके ब्रजमोहन ने भारत की प्राचीन और वर्तमान स्थिति व किसानों की समस्याओं और उनके निवारण पर प्रकाश डाला इसके साथ ही आत्मा की शक्ति के बारे में बताते हुए परमात्मा से एकता की शक्ति लेने व आत्मनिर्भर बनने का आहवान किया।
आगे यूरोप एंड मिडिलइस्ट की निदेशिका बीके जयंती, महाराष्ट्र के ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुश्रीफ, ग्राम विकास प्रभाग की अध्यक्षा बीके सरला ने कृषि के साथ साथ वर्तमान हालातों पर भी चर्चा करते हुए स्व सशक्तिकरण और चुनौती को अवसर में बदलने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *