Wed. May 22nd, 2019

भाई-बहन के अपार प्रेम और समर्पण के प्रतीक भाईदूज के त्यौहार पर ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान के मुख्यालय शांतिवन में सभी को तिलक लगाकर इस पर्व की बधाई दी गई। इस पर्व का आध्यात्मिक रहस्य बताते हुए वरिष्ठ सदस्यों ने बताया कि सच्चे अर्थ में स्वयं को पहचान, आत्मिक रुप में भाई-भाई समझना ही भाई दूज का पर्व मनाना है।

इस पर्व पर प्रातः काल आध्यात्मिक क्लास के बाद संस्था से जुड़े भाई बहनों ने ध्यान साधना के बाद कतार बद्ध होकर तिलक लगवाया तथा आत्मिक स्मृति में रहने का संकल्प लिया। ब्रह्माकुमारीज संस्था की संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी ने कहा कि भाई बहन का त्यौहार केवल भाई बहन ही नहीं बल्कि आत्मा रुप में भाई भाई की याद दिलाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *