Tue. Dec 10th, 2019

एक ऐसा व्यक्तित्व जो सर्वगुण सम्पन्न हैं, 16 कला सम्पूर्ण हैं, सम्पूर्ण निर्विकारी मर्यादा पुरुषोत्तम हैं और वो हैं श्रीकृष्ण, जिनके स्वरुप की कल्पना मात्र से ही लोग मंत्रमुग्ध हो जाते हैं। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर देशभर में रौनक का माहौल रहा कहीं मटकी फोड़ तो कहीं बाल लीलाओं का मनमनोहक दृश्य लोगों को अपनी ओर आकर्षित करता हुआ नज़र आया। इस बीच ब्रह्माकुमारीज़ के कई सेवाकेन्द्रों पर हर पर्व की तरह जन्माष्टमी पर भी आध्यात्मिक एवं अलौकिक रीति से पर्व मनाया गया, तरह-तरह की झांकियां सजाई गई और आने वाले लोगों को आने वाली नई सतयुगी दुनिया का संदेश देते हुए स्वयं में भी दैवीगुणों की धारणा करने का आह्वान किया।
शुरु करते है खबरों का सिलसिला मध्य प्रदेश जबलपुर के नेपियर टाउन सेवाकेन्द्र पर कृष्ण कथा, भगवद्गीता एवं राजयोग नामक कार्यक्रम आयोजित हुआ, वहीं छ.ग. के अम्बिकापुर में चैतन्य में राधा कृष्ण ने रास रचाया, आगे दिल्ली में मयूर विहार फेज़-1, इंदौर के गंगोत्री विहार तथा कलानी नगर में भी हर्ष का माहौल था। मध्यप्रदेश के सारंगपुर तथा परासिया, आन्ध्रप्रदेश के छापरा, बिहार के सुपौल, झारखण्ड के देवघर तथा पड़ौसी देश नेपाल के राजबिराज की अलग-अलग तस्वीरें आपको दिखा रहे है सेवाकेन्द्रों पर मनाए गए पर्व का ये दृश्य है जहां हर्ष और उल्लास से लोगों ने पर्व मनाया और आध्यात्मिक रहस्यों से भी अवगत हुए। इसी तरह देश के अन्य कई हिस्सों में भी जन्माष्टमी की धूम रही पंजाब के अबोहर, ओड़िशा के मयूरभंज स्थित बेतनोती, बिहार गया के सिविल सालइन्स, गुजरात के पोरबंदर, मध्यप्रदेश के राजगढ़ तथा बेंगलुरु में थिम्मासंद्र उपसेवाकेन्द्र में भी बाल लीलाओं का मनमोहक दृश्य दिखा। आगे अन्य कई और स्थानों में भी हर्षोल्लास के साथ श्रीकृष्ण का जन्मदिवस मनाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *