Tue. Oct 20th, 2020

Rupnagar, Guwahati

असम के गुवाहाटी में उत्तर पूर्व के किसानों को सशक्त बनाने और उन्हें मानसिक व भावनात्मक संकट से बाहर निकालने में मदद करने के लिए संस्था के ग्राम विकास प्रभाग द्वारा सोनराम एच.एस. प्लेग्राउण्ड में सम्पूर्ण ग्राम विकास किसान सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का उद्देश्य किसानों को ‘शाश्वत यौगिक खेत की अनूठी अवधारणा के प्रति जागृत करना था ताकि किसान कीटनाशक दवाईंयों के इस्तेमाल से बचें, साथ ही जैविक के साथ यौगिक खेती को अपनाएं।

इस अवसर पर ग्राम विकास प्रभाग की अध्यक्षा बीक सरला ने कहा कि रासायनिक खाद की पैदावार भयंकर बीमारियों को जन्म दे रही है, ऐसे में यौगिक खेती को अपनाकर हमें औरों को भी प्रेरित करना चाहिए।

इस कार्यक्रम का उद्घाटन बीजेपी के असम राज्य समिति के अध्यक्ष रंजीत दास, पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. जॉन एक्का, असम कृषि विश्वविद्यालय के प्रिंसिपल वैज्ञानिक धीरेन कलिता, जे.एम.डी.ए के उपाध्यक्ष मुकुट द, ब्रह्माकुमारीज़ के ग्राम विकास प्रभाग के मुख्यालय संयोजक बीके सुमंत, गुवाहाटी सबज़ोन प्रभारी बीके शीला समेत अन्य कई प्रतिष्ठित हस्तियों ने सम्मेलन का उद्घाटन किया।

इस दौरान बीके सुमंत ने जैविक खाद के उपयोग के साथ राजयोग के अभ्यास द्वारा यौगिक खेती का प्रयोग करने पर बल दिया। कार्यक्रम में आए हुए अतिथियों ने इस आयोजन के लिए संस्थान का आभार माना। इस अवसर पर हज़ारों की संख्या में लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *